लाठीचार्ज पर कैबिनेट मंत्री की पुलिस को चेतावनी, ‘अब ऐसा हुआ तो बर्दाश्त नहीं करेंगे’

भोपाल। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस द्वारा की गई लाठीचार्ज पर अब सियासत तेज़ हो गई है। कैबिनेट मंत्री आरिफ अकील ने सख्त लहजे में कहा है कि अगर अब इंदौर जैसी घटना प्रदेश में कही भी हुई तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि, माहौल तो पिछले 15 साल से खराब रहा है। अब तो माहौल को सुधारने का समय है।इंदौर में जिस तरह विरोध प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया वह सरासर गलत था। एक तरफ शांतिपूर्ण तरीके से विरोध दर्ज कराया जा रहा है तो दूसरी तरफ सीएए पर तलवारे और हथियार के साथ इसके पक्ष में लोग सड़कों पर हैं। इनको तो पुलिस प्रशासन परमिशन दे रहा है। पूरे मध्यप्रदेश में अगर इंदौर जैसी घटना को दोहराया जाता है तो मैं बिल्कुल इसको बर्दाश्त नहीं करूंगा।

इंदौर में 16-17 जनवरी की रात में नागरिकता संशोधन बिल (CAA) के विरोध में प्रदर्शन हुआ. इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया. अब इस घटना को लेकर मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने जांच के आदेश दे दिए हैं.

मामले में गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा है कि जांच में दोषी पाये जाने वाले व्यक्तियों पर नियमानुसार कठोर कार्रवाई की जाएगी. गृह मंत्री बाला बच्चन ने पुलिस प्रशासन को शांति व्यवस्था बनाए रखने के सख्त निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही उन्होंने असामाजिक तत्वों को सिर उठाने का मौका न दिए जाने की हिदायत पुलिस प्रशासन को दी है.