कैबिनेट मंत्री ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दी बड़ी राहत

भोपाल।
मध्यप्रदेश की महिला और बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने घोषणा की है कि अब आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को उनके मूल काम के अलावा किसी भी अन्य कार्य में नहीं लगाए जाएगा। विभाग द्वारा जल्द इस संबंध में आदेश जारी किए जाएंगे। इमरती देवी अपने विभाग की उपलब्धियों के संबंध में भोपाल के पलाश होटल में पत्रकारों को संबोधित कर रही थी।

इमरती ने इस अवसर पर अपने एक साल के कार्यकाल का ब्यौरा पेश करते हुए कहा कि विभाग लगातार कुपोषण मिटाने की दिशा में उत्तरोत्तर प्रगति कर रहा है। इमरती ने इस अवसर पर विभाग के नए ब्रोशर का विमोचन किया और बताया कि आंगनवाड़ियों में अब रियल टाइम मॉनिटरिंग की जा रही है। कुपोषण को खत्म करने के लिए सी-सैम अभियान की शुरुआत की गई है जिसका क्रियान्वयन दो चरणों में किया जाएगा।

10 फरवरी से 20 फरवरी तक पहला चरण चल रहा है जबकि 25 से 21 मार्च तक इसका दूसरा चरण होगा और इसमें फॉर्म के माध्यम से जानकारी जुटाई जाएगी। कुपोषण के लिए अब सी-सैम एप के द्वारा निगरानी रखी जाएगी। पोषण रसोई योजना की शुरुआत करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य होगा। बाल शिक्षा केंद्रों में गुणवत्तापूर्ण शाला का संचालन किया जाएगा। आंगनवाड़ियों में ऐच्छिक रूप से अंडे दिए जाएंगे, जो अंडे नहीं खाएगा उसे फल दिए जाएंगे।

सी सौम अभियान चलाया जाएगा
मंत्री ने बताया कि महिला एवं बाल विकास आति गंभीर कुपोषित बच्चों के लोए सी सौंम अभियान चलाएगा। इस योजना में स्वास्थ्य जांच, हितग्राही मूलक योजनाए से जोड़ना पोषक मित्र के रूप में लोगो को गोद देगे। विभाग हर दिन तीन भवनों का लोकापर्ण करेगी। बाल शिक्षा केन्द्र सीजन 2 की शुरआत की जाएगी, जिसमे 800 नवीन बाल शिक्षा केन्द्र शुरू किए जाएंगे। पुराने 313 बाल शिक्षा केंद्रों का उन्ननयन लेवल-2 के लिए किया जायेगा। स्वाद पोषण एवं स्वास्थ्य कार्यकम की शुरुआत की जाएगी। कार्यकम में स्थानीय स्तर पर उपलब्ध भोजन सामग्री से स्वादिष्ट न्यूट्रिन्स भोजन बनाने की प्रतियोगिता आयोजिय की जावेगी..उड़ान-2020 की शुरआत की जाएगी, जिसमे आश्रय ग्रह में रहने वाले बच्चों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए बाल भवन से जोड़ा जाएगा।बच्चो को उनकी रुचि के अनुसार बाल भवन के द्वारा विभिन्न गतिविधियां सड़ प्रशिक्षित किया जाएगा। समधारा-2020 को शुरआत की जाएगी।आश्रय ग्रह में निवासरत बच्चो को उनकर रुचि के अनुसार रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण दिया जाएगा।

कुपोषण खत्म करना सरकार का उद्देश्य
आंगनबाड़ी में अंडे देने के फैसले पर इमारती देवी ने कहा जो अंडे खाएगा उसे अंडे देंगे जो फल खाएगा उसे फल देंगे। हमारा उद्देश्य प्रदेश से कुपोषण को खत्म करना है। जब से कांग्रेस की सरकार आई है तब से किसी बच्चे की कुपोषण से मृत्यु नही हुई है। हमारे बच्चे पढ़ाई के लिए विदेश नही जाए, देश मे रह कर शिक्षा लें।

सिंधिया का समर्थन
गुरुवार को टीकमगढ़ में कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के अतिथि शिक्षकों के समर्थन में सड़क पर उतरकर आंदोलन करने वाले बयान का भी कैबिनेट मंत्री ने समर्थन किया। इमरती देवी ने कहा कि सिंधिया युवा नेता है और संघशील नेता है। सिंधिया गरीबो की हक की लड़ाई लड़ते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here