विभाग के इस कदम से पात्रता के बाद भी शिक्षक नहीं बन पाएंगे लाखों उम्मीदवार

भोपाल।
रिक्त पदों की संख्या प्रदर्शित ना होने के चलते माध्यमिक शिक्षक की पात्रता परीक्षा में पास हुए अभ्यर्थी स्कूल शिक्षा विभाग से नाराज हो गए है।इसी के चलते गुरुवार को उन्होंने शाहजहांनी पार्क में रिक्त पदों में वृद्धि की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।अभ्यर्थियों का आरोप है कि माध्यमिक शिक्षक के लिए रिक्त पदों की संख्या पात्र अभ्यर्थियों की संख्या से काफी कम है, इससे लाखों अभ्यर्थी बेरोजगार रह जाएंगे।

दरअसल, उच्च माध्यमिक शिक्षक के 15 हजार पदों पर भर्ती होनी है, जबकि प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) द्वारा आयोजित पात्रता परीक्षा-2018 में 43,723 उम्मीदवार क्वालिफाइड हुए हैं। यह सभी उम्मीदवार शिक्षक बनने योग्य हैं। इसी प्रकार माध्यमिक शिक्षकों की 5670 पदों पर भर्ती होनी है। इसके लिए 2,16,240 उम्मीदवार पात्रता परीक्षा में सफल हुए हैं। इन दोनों वर्गों की पात्रता परीक्षा में कुल 2,59,963 अभ्यर्थी पास हुए हैं। लेकिन दोनों वर्गाों को मिलाकर विभाग सिर्फ 20,670 पदों पर भर्ती कर रहा है। अब ऐसे में 2 लाख 39 हजार 293 अभ्यर्थियों की भर्ती नहीं हो पाएगी, जिससे वे बेरोजगार हो जाएंगे।

इससे नाराज शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थी संघ ने गुरुवार को शाहजहांनी पार्क में रिक्त पदों में वृद्धि की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।उनका कहना है कि प्रदेश में 70 हजार शिक्षकों के पद रिक्त हैं। 20 हजार 670 पद भरने के बाद भी करीब 50 हजार पद रिक्त रह जाएंगे। माध्यमिक शिक्षक के लिए रिक्त पदों की संख्या पात्र अभ्यर्थियों की संख्या से काफी कम है, इससे लाखों अभ्यर्थी बेरोजगार रह जाएंगे।

ऐसा रहेगा शिक्षक भर्ती का पूरा शेड्यूल
विवरण उच्च माध्यमिक शिक्षक माध्यमिक शिक्षक
ईडब्ल्यूएस श्रेणी के रजिस्ट्रेशन 17 जनवरी से 2 फरवरी तक 22 जनवरी से 7 फरवरी
प्रोविजनल व वेटिंग लिस्ट प्रकाशन 20 फरवरी 29 फरवरी
दस्तावेज अपलोड और च्वाइस लॉक 25 फरवरी से 15 मार्च 5 मार्च से 25 मार्च
जिला स्तर पर दस्तावेजों का सत्यापन अप्रैल 2020 अप्रैल 2020
अंतिम चयन सूची व प्रतीक्षा सूची मई 2020 मई 2020

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here