टेकरी पर छात्रा की हत्या का मामला, जस्टिन ने भी किया था हत्या-बलात्कार में सहयोग

-case-of-the-murder-of-a-girl-student-on-Tekri

भोपाल। बीती तीस अप्रेल की शाम को मनुआभान टेकरी पर आठवीं की छात्रा की बलात्कार के बाद में निर्मम हत्या करने के मामले में पुलिस ने मृतका के दोस्त जस्टिन को भी गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने स्वीकार किया है कि उसने और अविनाश साहू ने लड़की की बुआ को मंदिर की सीढ़ीयों पर बिठा दिया था। इसके बाद में दोनों ने 13 वर्षीय किशोरी के साथ में ज्यादती की। जब लड़की ने इस बात की शिकायत करने की धमकी दी तो दोनों ने उसकी हत्या कर दी। पुलिस मामले में गैंग रेप की धाराओ में इजाफा कर रही है। 

– यह था घटनाक्रम

जानकारी के मुताबिक हॉलीक्रॉस स्कूल लांबा खेड़ा में अठवीं क्लास में पढऩे वाली छात्रा, लांबाखेड़ा की ही रहने वाली थी। उसके पिता डाक्टर हैं। उसी स्कूल में छात्रा की चचेरी बुआ भी पढ़ती है। मंगलवार शाम करीब साढ़े तीन बजे छात्रा को लेकर उसकी बुआ अपने दोस्त अविनाश के साथ मनुआभान टेकरी गई थी। वहां मृतका के दोस्त जस्टिन के साथ उसकी मुलाकात फिक्स थी। शाम 7 बजे मृतका की बुआ ने परिजनों को पहले कॉल किया और बाद में घर पहुंचकर बताया कि (ईशा मृतका का परिवर्तित नाम) नहीं मिल रही। इसके बाद परिजनों ने कोहफिजा थाने में सूचना दी और टेकरी पर छात्रा को खोजने लगे। बुधवार की सुबह करीब छह बजे एक गुफ ा में पुलिस को छात्रा की खून से लथपथ लाश मिली और उसके शरीर कपड़ा नहीं था। मृतका के चाचा ने बताया था कि हैमिल्टन कोर्ट कॉलोनी के गेट में लगे सीसीटीवी में शाम चार बजे चारों लोग जाते दिखे और शाम 6:10 बजे तीन लोग ही बाइक से वापस आते दिखे। तब परिजनों का आरोप है कि जस्टिन और अविनाश ने पहले छात्रा के साथ दुष्कर्म किया और बाद में उसकी हत्या कर दी। हालांकि आनन फानन में 24 घंटे भीतर पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए जस्टिन और बच्ची की बुआ की भुमिका होने की बात से पहले इनकार किया था। दोनों को जांच के दायरे में रखे जाने की बात कही गई थी।