पकड़ा गया मासूम का कातिल, खौफनाक तरीके से की थी हत्या

भोपाल। राजधानी भोपाल के शाहजहांनाबाद इलाके में चौथी क्लास के लापता छात्र की हत्या के बाद लाश मिलने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में शाहजहानाबाद पुलिस ने अरुण यादव नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि अरोपी पवन ने ही बच्चे का अपहरण कर उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य किया और फिर उसकी हत्या कर लाश को संजीव नगर नेवरी मंदिर के आगे रेल की पटरी के पास सुनसान स्थान पर फेंक दिया। मामले के दो अन्य आरोपियों गोपाल यादव उर्फ लालू और दूसरे आरोपी मुट्टू को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस मामले में तीनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है।

हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि आरोपी अरुण यादव ने ही 10 साल के पवन के साथ कृत्य करने के बाद उसकी हत्या कर दी थी। घटना में बाकी दोनों आरोपियों ने अरुण को बच्चे के अपहरण में मदद की थी। पवन का अपहरण करने के बाद आरोपी अरुण ने उसी दिन उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य कर उसकी हत्या कर दी थी। हत्या के बाद से ही आरोपी अरुण राजधानी के अरवालिया में फरारी काट रहा था। पुलिस ने तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। गौरतलब है कि चौथी कक्षा का छात्र पवन कनर्जी (10 वर्ष) 22 फरवरी से लापता था। उसके परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट शाहजहानाबाद थाने में लिखवाई थी। शुक्रवार दोपहर को बच्चे की लाश संजीव नगर नेवरी मंदिर के आगे रेल की पटरी के पास सुनसान स्थान पर मिली है। बच्चे के शव पर पूरे कपड़े नहीं थे। शव की हालत इस कदर खराब हो गई थी कि उससे दुर्गंध आ रही थी। पुलिस संदेहियों से पूछताछ कर रही थी जिसके बाद आज सफलता पाते हुए पुलिस ने मुख्य आरोपी को धर दबोचा।