मप्र में फिर बारिश के आसार, गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी की संभावना

भोपाल| मई की शुरुआत से ही सूरज ने अपने तीखे तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं| दिन में भीषण गर्मी (Scorching heat) से रात में भी लोगों को राहत नहीं मिल पा रही है| शनिवार को दिन का अधिकतम तापमान 42.3 डिग्री दर्ज किया गया,जो कि सामान्य से 2 डिग्री अधिक रहा| रविवार को भी सूरज की तपन से लोग बेहाल रहे| वहीं प्रदेश में एक बार फिर बारिश (Rain) के आसार बन रहे हैं| मौसम विज्ञानियों के मुताबिक गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने के आसार हैं।

मौसम विभाग (Weather Department) की माने तो 24 घंटों के अंदर प्रदेश के ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों में तथा नीमच, मंदसौर,टीकमगढ़ एवं छतरपुर जिलों में गरज चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है। वहीं सोमवार को भोपाल संभागों के जिलों में तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी की संभावना है।

5 मई को बादल घने होकर राजधानी में गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना है। इस दौरान प्रदेश में कुछ स्थानों पर बौछारें भी पड़ सकती हैं।

“द्रोणिका”ने ग्वालियर में बारिश के साथ गिराए ओले, बढ़ी उमस
ग्वालियर में रविवार को दिनभर तेज धूप के बाद शाम के समय मौसम में अचानक बदलाव आ गया। शाम के समय पांच बजे के आसपास तेज बारिश शुरू हो गई। बारिश के साथ ओले भी गिरना शुरू हो गए। उपनगर लश्कर के कई क्षेत्रों में बड़े बड़े ओले गिरे तो सिटी सेंटर के कई क्षेत्रों में चने के बराबर ओले गिरे। बारिश और ओले हालांकि शहरी क्षेत्र में ही गिरे और एक घंटे से कम ये सिलसिला चला जिससे किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ। मौसम विभाग का कहना है कि कम दबाव के कारण बनी द्रोणिका के कारण मौसम में बदलाव आया है जो रात तक क्लियर हो जायेगा। बहरहाल तेज गर्मी के बाद हुई बारिश ने मौसम में ठंडक तो नहीं घोली बल्कि उमस बढ़ा दी।