भार्गव का आरोप- अवैध खनन के लिए कलेक्टर-मंत्री ले रहे है 5-5 लाख

भोपाल।
कमलनाथ सरकार प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ अभियान चला रही है।आए दिन माफियाओं के खुलासे किए जा रहे है। इसी बीच नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने अधिकारियों पर रेत माफियाओं से सांठगांठ के आरोप लगाए है। वही भार्गव ने अपने ट्वीटर हैंडलर पर एक वीडियो भी जारी किया है, जिसमें कांग्रेस पदाधिकारी एसडीएम कार्यालय में बैठकर अधिकारियों को बता रहे है कि अवैध खनन के लिए 5 लाख कलेक्टर और 5 लाख मंत्री ले रहे है।

वीडियो सीधी के चुरहट का है। जिस पर भार्गव ने ट्वीट कर लिखा है कि यह गंभीर मामला है। मुख्यमंत्री कमलनाथ जी इसका संज्ञान लेकर जिलों से अवैध खनन के 5 -5 लाख रुपये लेने वाले कलेक्टर और मंत्रियों की सूची जारी करें।रेत के खेल में माफ़िया और प्रशासन की गठजोड़ सिर्फ सीधी जिले नही पूरे प्रदेश में है। मुख्यमंत्री कमलनाथ बताएं कि ऐसे कितने जिलों के एसडीएम कार्यालय दलाली का अड्डे बने हुए है। वीडियो में आप खुद देखे की कांग्रेस नेता एसडीएम के साथ ठहाके लगाते हुए अवैध खनन के रेट बता रहे।

आगे भार्गव ने लिखा है कि कांग्रेस सरकार में कांग्रेस नेताओं ने सरकारी कार्यालयों को दलाली का अड्डा बना लिया है। कांग्रेस पदाधिकारी सीधी के चुरहट एसडीएम कार्यालय में बैठकर खुद ठहाके लगाते हुए अधिकारियों को बता रहे है कि अवैध खनन के लिए 5 लाख कलेक्टर और 5 लाख मंत्री ले रहे है। तब जाकर खनन हो रहा है।