मुख्य चुनाव आयुक्त का बड़ा बयान-सितंबर के अंत तक करवा देंगे MP में उपचुनाव

भोपाल।
मध्य प्रदेश में उपचुनाव को लेकर राजनैतिक पार्टियों की जारी तैयारियों के बीच मुख्य चुनाव आयुक्त का बड़ा सामने आया है।मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने समय पर ही चुनाव करवाने की बात कही है।आयुक्त के अनुसार, सितंबर के अंत तक उपचुनाव हो जाएंगे।संभावना जताई जा रही है राखी से पहले चुनावों की तारीखों का ऐलान हो सकता है।

एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे अरोड़ा ने कहा कि मध्यप्रदेश में उप चुनाव समय पर ही होंगे। सितंबर के अंत तक उपचुनाव करवा देंगे। सितंबर महीने के अंतिम सप्ताह में अभी करीब दो महीने का वक्त है, ऐसे में मुख्य चुनाव आयुक्त के बयान से अंदाजा लगाया जा सकता है कि चुनाव की तारीख की घोषणा जल्द ही हो सकती है।

दरअसल, एमपी में लगातार बढते कोरोना के आंकडों को देखकर यह कहा जा रहा था कि चुनाव टाले जा सकते है। लेकिन आज आयुक्त के बयान से साफ हो गया है कि समय पर ही उपचुनाव होंगे। हालांकि चुनाव आयोग द्वारा बडी सावधानी रखी जाएगी। मतदाताओं की सेहत का ध्यान रखते हुए अलग अलग बूथ बनाए जा सकते है औऱ सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा पालन किया जाएगा।जहां राजनैतिक पार्टियों के लिए यह चुनाव बडी चुनौती होगी वही आयोग के लिए भी किसी बडे टास्क से कम नही।

बता दे कि मध्य प्रदेश में 26 सीटों पर उप चुनाव होना है, जिसमें से 24 सीटे कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे से खाली हुई है और दो विधायकों के निधन से। भले ही चुनाव की तारीखों का ऐलान नही हुआ है ,लेकिन आयुक्त के बयान के बाद राजनैतिक पार्टियों की धड़कने तेज हो गई है। हालांकि सभी राजनीतिक दलों ने पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी हैं और जीत के लिए रणनीति बनाना शुरु कर दिया है।यह चुनाव कांग्रेस और बीजेपी का एमपी में भविष्य तय करेंगे। जहां प्रदेश की शिवराज सरकार सत्ता बचाने की कोशिश करेगी वही कांग्रेस कमबैक में लगी हुई है।इस बार का चुनाव बेहद रोचक होने वाला है, कई बड़े नेताओं की साख दांव पर लगेगी और उनका फैसला जनता करेगी।