बच्चों का तनाव मिटाने के लिए बाल आयोग की पहल, टोल फ्री काउंसलिंग शुरू

6-7 years cute child learning mathematics from computer.

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (Corona) के चलते बच्चों को भी मानसिक समस्याओं (Mental Illness) के दौर से गुजरना पड़ रहा है। बच्चों की समस्याओं के निदान के लिए मध्य प्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग (Madhya Pradesh Child Rights Protection Commission) ने पहल करते हुए संवेदना नाम से टोल फ्री टेली काउंसलिंग (Toll Free Counciling) शुरु की है।

आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी में बताया गया है कि कोविड-19 (Covid-19) के दौरान 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) पर गहरा असर पड़ा है। ऐसे बच्चे टोल फ्री नम्बर पर सुबह 10 से एक बजे तक और दोपहर तीन बजे से रात्रि आठ बजे तक सोमवार से शनिवार अपनी समस्याओं पर विषय विशेषज्ञों, काउंसलर से बात कर सकते हैं।

बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा शुरु की गइ्र्र संवेदना नाम से टोल फ्री टेली काउंसलिंग का नम्बर 1800-1212-830 जारी किया गया है। इस पर बच्चे कॉल कर विशेषज्ञों से बात कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं। कोरोना काल में लोगों में अवसाद बढ़ने की घटनाएं सामने आई है, कई बच्चों को भी मानसिक समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। ऐसे में ये पहल बच्चों के लिए बेहद लाभकारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here