भोपाल| शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने शहर की अवाम से फिर अपील की है कि वे शुक्रवार को जुमा की नमाज़ अपने घरों में ही अदा करें। उन्होंने मीडिया और सोशल मीडिया के जरिए लोगों को अपना पैग़ाम भेजते हुए कहा कि मुल्क और शहर में बने हुए हालात को देखते हुए लोगों का फिलहाल एक दूसरे से दूर रहना जरूरी है। उन्होंने अगले आदेश तक लोगों को घरों में ही नमाज़ पढ़ने की ताकीद की है।
शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने कहा कि फिलहाल हालात ठीक नहीं हैं। लोगों को घरों में ही रहना चाहिए। उन्होंने शुक्रवार को जुमा की नमाज़ भी घरों में पढ़ने की ताकीद की है। शहर काजी ने कहा कि शासन प्रशासन के जो नुमाइंदे लोगों की हिफाज़त और इलाज में लगे हैं, उनका एहतराम करना चाहिए और उनके काम में मदद करना चाहिए। उन्होंने सोशल मीडिया पर चलने वाली हर अफवाह से बचने के लिए कहा और किसी भी बात को तस्दीक किए बिना उसपर रिएक्ट न करने की ताकीद भी की। काजी साहब ने दिल्ली मरकज के मामले को लेकर कहा कि ऐन वक्त पर जो जहां है, वहीं रहे, की ताकीद करने वालों को गुनाहगार करार दिया जाना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि मरकज में मौजूद लोगों ने सरकारी फरमान का पालन ही किया है। इस बारे में फैलाई जाने बातों को रोकना चाहिए। शहर काजी ने कहा कि आपसी रिश्तों को बरकरार रखने और सभी धर्म, मजहब, समाज और लोगों की आस्थाओं की कद्र करने के लिए भी कहा है।