गुंडा लिस्ट में शामिल कुख्यात अपराधी को पासपोर्ट के लिए दे दी क्लीनचिट, टीआई सस्पेंड

clean-chit-given-to-the-criminal-for-the-passport-ti-suspend-

भोपाल| मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम के फर्जी पासपोर्ट बनवाने का मामला सुर्ख़ियों में रहा है, अब पुलिस की मिली भगत से एक और अपराधी को वेरिफिकेशन में क्लीनचिट देकर पासपोर्ट जारी करने का मामला सामने आया है| टीटी नगर थाने की गुंडा लिस्ट में शामिल बदमाश करण सिंह उर्फ लालू को पुलिस वेरिफकेशन में क्लीनचिट दे दी गई। मामले का खुलासा होने के बाद गृहमंत्री बाला बच्चन ने IG जयदीप प्रसाद को तलब कर टीटी नगर टीआई पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं| टीआई आलोक श्रीवास्तव को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है| 

दरअसल, एनएसए और जिलाबदर हो चुके कुख्यात बदमाश करण सिंह उर्फ लालू पिता हयात सिंह पर हत्या के प्रयास, छेड़छाड़, घर में घुसकर मारपीट, घर में घुसकर महिलाओं से छेड़छाड़, आम्र्स एक्ट, उपद्रव, बलवा जैसे आइपीसी के करीब दो दर्जन अपराध और प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के आधा दर्जन से अधिक अपराध दर्ज हैं | वहीं इन सभी अपराधों को नजरअंदाज करते हुए पुलिस ने वेरिफिकेशन में कुलीन नागरिक का दर्जा दे दिया|   पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक करण सिंह पर एक भी अपराध नहीं है। चर्चा है कि क्लीनचिट देने के लिए सौदा तय हुआ था, लेकिन मामला लीक हो गया| करण के आवेदारन पर पुलिस वेरिफिकेशन में थाने में दो महीने लगे, जबकि सात दिनों के भीतर यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है|   

मामले में डीआईजी भोपाल धर्मेंद्र चौधरी का कहना है कि प्रकरण में नियम विरुद्ध कुछ हुआ है तो संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी। जांच में दोषी पाए जाने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  मामले की जानकारी गृहमंत्री बाला बच्चन तक भी पहुंची| मामले की गंभीरता को देखते हुए गृहमंत्री ने IG जयदीप प्रसाद को तलब किया| आईजी को टीटी नगर टीआई पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए| जिसके बाद आलोक श्रीवास्तव टीटी नगर टीआई पर पासपोर्ट के मामले में कार्रवाई करते हुए उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है| अब सवाल है कि जो बदमाश गुंडा लिस्ट में शामिल है, एनएसए हो चुका है उसे कैसे क्लीनचिट दी गई, जाँच के बाद ही इसका खुलासा होगा|