देवास और ग्वालियर की घटना पर सीएम नाराज, सख्त कार्रवाई के निर्देश

आज सुबह आपात बैठक में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कल देवास और ग्वालियर में वन और पुलिस अमले पर हुई हमले की घटनाओं पर चर्चा कर उच्च अधिकारियों को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए।

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में भले ही माफिया विरोधी कार्रवाई जारी है| इसके बावजूद बदमाशों के हौंसले बुलंद हैं| शुक्रवार को देवास (Dewas) जिले में वनरक्षक और ग्वालियर (Gwalior) में पुलिस निरीक्षक पर अपराधी तत्वों द्वारा हमले की घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने बेहद नाराजगी जताई है| आज सुबह आपात बैठक में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कल देवास और ग्वालियर में वन और पुलिस अमले पर हुई हमले की घटनाओं पर चर्चा कर उच्च अधिकारियों को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दायित्व में संलग्न वन स्टाफ की आवश्यक सुरक्षा के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। इसके लिए गृह, वन, राजस्व आदि विभाग मिलकर संयुक्त प्रयास करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अवैध उत्खनन करने वाले माफिया को किसी स्थिति में नहीं छोड़ा जाए । प्रदेश में सभी तरह के माफिया पर पूरी तरह से अंकुश लगाया जाए।

बैठक में निर्णय लिया गया कि देवास में हमले में मृत वनरक्षक को शहीद के समकक्ष दर्जा दिया जाएगा। परिवार को सभी आवश्यक सुविधाएँ भी दी जाएंगी।