कमलनाथ का ब्लॉग – केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार ने पैदा किया आर्थिक संकट

भोपाल।मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक ब्लॉग लिखकर मध्य प्रदेश की वर्तमान आर्थिक हालात के लिए केंद्र की मोदी सरकार और मध्य प्रदेश की पूर्ववर्ती शिवराज सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। कमलनाथ ने प्रदेश की जनता से कहा है कि अब हम लगातार प्रदेश को आगे बढ़ाने और उसकी साख को शीर्ष पर पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन जब मैं मुख्यमंत्री बना तब मालूम हुआ कि केंद्र की मोदी सरकार और मध्य प्रदेश की पूर्ववर्ती शिवराज सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के कारण प्रदेश वित्तीय कठिनाइयों में फंसा हुआ है।

पिछली सरकार ने मध्यप्रदेश में व्यक्तिवादी राजनीति कर झूठा प्रचार किया और कई योजनाएं पर्याप्त बजट प्रावधान के शुरू की गई ।इसका बहुत बङा असर हमारी सरकार पर पड़ा। हमने सरकार में आते ही यह तय किया कि हम मितव्यता के साथ जनता की अपेक्षाओं को केंद्र में रखकर प्रदेश की साख को पूरे विश्व में स्थापित करेंगे ।परिणाम धीरे-धीरे देखने को मिल रहे हैं ।

मोदी सरकार पर वार करते हुए कमलनाथ ने कहा है कि केंद्रीय बजट में मध्य प्रदेश के हिस्से के 14233 करोड रुपए कम कर दिए गए लेकिन हम इन स्थितियों के बाद भी हर चुनौती को ,जो हमारे सामने आएंगी, अवसरों में तब्दील कर देंगे। कमलनाथ ने इस बात को लेकर भी दुख जताया है कि प्रदेश के 28 भाजपा सांसदों ने प्रदेश के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ कोई आवाज नहीं उठाई।

ब्लॉग में कमलनाथ ने लिखा है कि महात्मा गांधी ने कहा था कि सरकार जब भी कोई योजना बनाए तो अंतिम पंक्ति के व्यक्ति का चेहरा सामने होना चाहिए। हमारी सरकार ने इसी का ध्यान रखा है ।आज प्रदेश के 87% से अधिक घरेलू बिजली के उपभोक्ताओं का बिजली बिल इंदिरा गृह ज्योति योजना से मात्र 30 से 40% रह गया है ।किसान ऋण माफी योजना से किसानों के चेहरे की चमक लौटी है