विपक्ष परेशान ना हो, 15 दिन बाद किसान खुद कहेगा मेरा कर्जा माफ हो गया : कमलनाथ

cm-kamalnath-statement-on-farmers-debt-waiver-in-mp

भोपाल।

बीजेपी के बार बार कर्जमाफी के सवाल उठाने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा बयान दिया है। कमलनाथ ने कहा है कि विपक्ष परेशान ना हो, 15 दिन बाद 25 लाख किसान खुद कहेंगे कि मेरा कर्जा माफ हो गया। मैं रतलाम से कर्ज माफी की शुरूआत कर रहा हूं। यह कर्ज माफी न बनावटी है और न दिखावे की, यह असल में होने वाली कर्ज माफी है। वहीं उन्होंने कहा कि पाला से जिन किसानों की फसलों को नुकसान होगा, सरकार उन्हें पूरा मुआवजा देगी।

दरअसल, विधानसभा में सत्र के आखिरी दिन गुरुवार को किसान कर्जमाफी के पैसे के इंतजाम का खुलासा करने को लेकर जमकर बवाल मचा। विपक्षी भाजपा ने नारेबाजी और बर्हिगमन किया। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने आरोप लगाया कि कर्जमाफी का 50 फीसदी पैसा सहकारी सोसाइटियों से दिलाया जा रहा है। इससे सहकारी बैंक दीवालिए हो जाएंगे।जिस पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जवाब दिया कि  विपक्ष परेशान न हो, 15 दिन बाद इस प्रदेश का 25 से 30 लाख किसान खड़े होकर बताएगा कि कर्ज माफ हो गया है। 15-16 दिन में 25 लाख किसानों का कर्जमाफ हो जाएगा।  हमने अपने वचन-पत्र में इसका वादा किया था और पिछले 6 माह से हम इसकी तैयारी कर रहे हैं। कर्ज माफी की सुनियोजित नीति बनायी गयी है। 2 लाख रुपये तक का कर्ज माफ करेंगे। यह कर्जा चाहें शेड्यूल बैंक, को-ऑपरेटिव बैंक या आरआरबी का हो, माफ किया जायेगा।

नाथ ने कहा कि  बैंक उनको नो-ड्यूज का सर्टिफिकेट देंगे। आपके-मेरे सर्टिफिकेट देने से कुछ नहीं होगा। आपका शक-परेशानी 15 दिन में दूर हो जाएगी। विपक्ष का अनुभव हमें आपसे ज्यादा है।  मैं रतलाम से कर्ज माफी की शुरूआत कर रहा हूं. यह कर्ज माफी न बनावटी है और न दिखावे की, यह असल में होने वाली कर्ज माफी है। हम ओला-पाला का मुआवजा भी समय पर देंगे। 

बता दे कि आज शुक्रवार से मुख्यमंत्री कमलनाथ रतलाम के नामली से किसानों के खाते में कर्जमाफी का पैसा ड़ालेंगें।आज से किसानों का दो लाख का कर्जा माफ किया जाएगा। सरकार ने दो मार्च तक 25  लाख किसानों का कर्जा माफ करने का वादा किया है।आज तकरीबन पांच लाख किसानों का कर्जा माफ होगा। वही बीजेपी सांसदों और विधायकों ने रतलाम मे होने वाले कार्यक्रम का बहिष्कार किया है, हालांकि इसको लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है।