मंदसौर में बेटियों की संख्या बढ़ने पर CM शिवराज ने जताई खुशी, कहा- मनाओ उत्सव

mp corona

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को झाबुआ, मंदसौर के जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक ली, बैठक में स्थानीय विधायक सहित मंत्री हरदीप सिंह डंग, जगदीश देवड़ा भी वर्चुअल जुड़े, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर जिले की तारीफ करते हुए कहा कि सेक्स रेशियों 1000 लड़कों पर 1021 बेटियां हो गया है। इसे एक उत्सव के रूप में मनाएं। मैं खुद इस कार्यक्रम में शामिल होने आऊंगा। वही मुख्यमंत्री शिवराज ने मंदसौर जिले की समीक्षा करते हुए पूछा कि यहां अभी पेयजल की स्थिति क्या है जिसके जबाव में कलेक्टर ने बताया पेयजल की स्थिति संतोषजनक है। कहीं संकट नहीं है। नए बोर प्रतिबंधित है। कुछ एक स्थानों पर मांग के अनुसार परिवहन किया जा रहा है पेयजल का। वही नलजल के तहत 192 प्रोजेक्ट काम कर रहे हैं। नगरी क्षेत्र में चल रहे पेयजल प्रोजेक्ट के कारण सड़क में गड्ढे हो गए हैं। लोगों की परेशानी बढ़ी है।

यह भी पढ़ें… केबिनेट दर्जा प्राप्त राज्य खनिज निगम के अध्यक्ष और विधायक प्रदीप जायसवाल ने दी चेतावनी

सीएम ने दोनों जिलों के संबंध में विस्तृत जानकारी देने के निर्देश अधिकारियों को दिए। सीएम ने कहा कि जहां नलजल योजनाएं बेहतर नहीं चल रही उनका रिव्यू कराएंगे। सी एम ने कहा कि नलजल योजनाएं भविष्य के लिये बेहतर बनें। जनता का पैसा है इसका सही उपयोग होना चाहिए। अधिकारी जनप्रतिनिधियों के साथ बैठकर चर्चा करें। ताकि भविष्य के लिए बेहतर योजना बन सकें। इसके साथ ही सीतामऊ नलजल योजना के संबंध में शिकायत आने पर मुख्यमंत्री ने कंपनी को पेमेंट ना करने के निर्देश दिए वही जलाभिषेक अभियान पर सी एम ने जनसहयोग लें। हमको जनता को एकजुट करना चाहिए। पानी को बचाए नहीं तो भविष्य में बड़ा जलसंकट का सामना करना पड़ेगा।

दोनो जिलों में प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए सीएम ने कहा कि ग्रामीण First फेज में 39 हज़ार स्वीकृत हुए थे जो बन गए हैं। अपात्रों को ना जोड़ें। अगर जोड़े गए हैं तो उन पर कारवाई करें। पीएम आवास योजना ग्रामीण में 98 प्रतिशत आवास पूरे हुए। मैं बधाई देता हूँ। बाकी भी पूरे करें। शहरी आवास का प्रतिशत कम है, इसको तेजी से पूरे करें। मंदसौर जिले को आइडियल बना सकते हैं। आवास प्लस में 8 हज़ार की प्रथम क़िस्त जारी की जा चुकी हैं। निचले स्तर पर आवास स्वीकृत हेतु भ्रष्टाचार की शिकायत पर तुरंत कार्रवाई करें। हम कोशिश करें कि जो जायज लोग छूटे हैं उनकी प्रमाणिकता के साथ सूची बनाएं। जिनके घर बन रहे हैं। सबके लिए एक साथ सामान उपलब्ध कराने की कोशिश करें ताकि उनकी कीमत कम हो सके। इस दिशा में मंदसौर मॉडल बने। 7 तारीख का “अन्न उत्सव” रस्म बनकर ना रहे। अनाज वितरण में मंदसौर को बेहतर व्यवस्था के लिए बधाई देता हूँ। सी एम ने कहा कि अमृत सरोवर ऐसे बनें कि यह गांव के लिए भी प्रेरणा स्थल बन जाये। 15 अगस्त, 26 जनवरी पर झंडावंदन हो। हम ऐसा प्रयास करें कि मॉडल बने। इस कार्यक्रम से लोगों को जोड़ें। जब तक जनता का मन ना जुड़े सफलता नहीं मिलती। ऊद्योगपतियों को भी अमृत सरोवर बनाने में जोड़ सकते हैं। कुछ अमृत सरोवर के निर्माण का कार्य हाथ मे ले सकते हैं। वही सी एम ने बैठक में मौजूद अधिकारियों से कहा कि एक जिला एक उत्पाद योजना लहसुन को शामिल किया है यह हमारे पास अवसर है कि देश-विदेश में एक्सपोर्ट हो। कुछ बड़ा सोचो। मार्केटिंग के लिए बेहतर करें। ब्रांड बनकर फेमस हो ऐसे प्रयास करें। 14 नगरीय निकायों के संपन्न हुए। मंदसौर का गौरव दिवस वृहद स्तर पर मनाने का निर्णय लिया है। इसे हम भगवान पशुपतिनाथ से जोड़कर भी वृहद स्तर पर मना सकते हैं। कुपोषण ना रहे, बच्चे स्वस्थ रहें इसलिए मैं आंगनबाड़ी के लिए सामान एकत्रित करने निकलूंगा। जनप्रतिनिधि भी निकलें। क्योंकि ये समाज की भी जिम्मेदारी है। जो लोग समृद्ध हैं वह अनाज, खिलौने या अन्य सामान आदि आंगनबाड़ी दे सकते हैं।

यह भी पढ़ें… आगामी चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा दांव, दिग्विजय सिंह और जीतू पटवारी को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

वही दोनों जिलों में कानून व्यवस्था को लेकर भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कड़े निर्देश दिए, अफीम और डोडाचूरा के कारण अंतरराष्ट्रीय तस्कर सक्रिय रहते हैं। मेरे निर्देश है कि सख्ती से कुचल दो। साम्प्रदायिक तनाव की घटनाएं होती हैं। उन्हें आपसी सामंजस्य से पहले ही निपटाएं। लव जिहाद, धर्मांतरण, पशु तस्करी के मामलों को गंभीरता से लें। गुंडे, बदमाश, माफिया पर कार्रवाई जारी रहे। एसपी ने बताया कि निरंतर कार्रवाई की जा रही है। 303 करोड़ की 150 एकड़ जमीन भूमाफिया से मुक्त कराई है। बड़े बड़े गोडाउन सरकारी जमीन पर बने थे उन्हें भी हटाया गया। गुंडों, बदमाशों से जमीन छुड़ाकर गरीबों को देना है। मुझे कहने में संकोच नहीं के भाजपा की सरकार समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही है। इसलिए हितग्राहियों का परिवार बनाएं। उन्हें बताएं कि यह सरकार की योजना है। मंदसौर को योजनाओं क्रियान्वयन में आइडियल जिला बनाएं। हम सब मिलकर काम करें।