पूर्व सांसद सारंग की पार्थिव देह को सीएम शिवराज ने दिया कंधा, शाम को राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार  

आज भले ही राजधानी में भाजपा के पास भव्य और आलीशान दफ्तर हो लेकिन उस काल मे स्व सारंग जी का घर ही भाजपा का दफ्तर होता था

भोपाल , डेस्क रिपोर्ट । मध्यप्रदेश (Madhya pradesh  के वरिष्ठ भाजपा नेता, पूर्व राज्यसभा सांसद एवं विधायक  विश्वास सारंग के पिता कैलाश सारंग (Kailash sarang) का पार्थिव शरीर को मुंबई से आज रविवार को विशेष विमान से भोपाल (Bhopal) लाया गया । स्टेट हेंगर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj singh Chauhan)  ने उनकी पार्थिव देह को कंधा  दिया। वरिष्ठ नेता कैलाश सारंग  का शनिवार को मुंबई (Mumbai) के एक अस्पताल में निधन हो गया था, आज शाम राजधानी के सुभाष नगर विश्राम घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जायेगा।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  (PM Narendra Modi)समेत मध्यप्रदेश के कई वरिष्ठ नेताओं ने उनके निधन पर शोक जताया है।

जनसंघ (Jansangh)और भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party)के वरिष्ठ नेता और प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग के पिता कैलाश सारंग का लम्बी लंबी बीमारी के बाद मुम्बई में 85 वर्ष की आयु में  निधन हो गया । उनके निधन की खबर से भाजपा में शोक की लहर दौड़ गई है। श्री सारंग भाजपा में जनसंघ के जमाने से जुड़े और प्रदेश के शीर्षस्थ नेताओ में शामिल रहे। भाजपा के संगठन विस्तार में सदैव उनकी  भूमिका महत्वपूर्ण रही ।

कभी सारंग का निवास था भाजपा कार्यालय  

कैलाश  सारंग जनसंघ के समय से संगठन से जुड़े और  भाजपा के संस्थापक सदस्य रहे। उनका  प्रदेश  की तत्कालीन राजनीति  में कितना प्रभाव  था इसका अंदाज़ा  इसी बात से लगाया जा सकता है कि कभी भोपाल स्थित उनका घर ही संयुक्त मप्र के जनसंघ और भाजपा नेताओं का ठिकाना हुआ करता था। आज मप्र और छत्तीसगढ़ में ऐसे अनेक वरिष्ठ नेता है जिन्होंने स्व सारंग के घर रहकर सियासत का ककहरा सीखा । आज भले ही राजधानी में भाजपा के पास भव्य और आलीशान दफ्तर हो लेकिन उस काल मे स्व सारंग जी का घर ही भाजपा का दफ्तर होता था । सभी बैठके वहीं होती थी जिनमे कुशाभाऊ ठाकरे और अटल विहारी वाजपेयी जैसे नेता भी शामिल होते थे।

आज शाम राजकीय सम्मान के साथ होगी अंत्येष्टि 
स्व सारंग अनेक बीमारियों से ग्रसित थे और पिछले सप्ताह ही उनकी हालत बिगड़ने पर एयर एंबुलेंस से मुम्बई ले जाया गया था जहां उन्होंने कल शनिवार को अंतिम सांस ली ।  स्व सारंग की पार्थिव देह आज रविवार को सुबह विशेष विमान से भोपाल आई । यहाँ एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्रीशिवराज सिंह ने स्वयं कंधा देकर उनकी पार्थिव देह को एम्बुलेंस तक पहुंचाया।उनकी पार्थिव देह उनके निवास ले जाई गई  जहां उसे अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया । इसके बाद भाजपा मुख्यालय ले जाया जाएगा जहां भाजपा कार्यकर्ता श्रद्धांजलि देगे । यही से उनकी अंतिम यात्रा शुरू होगी । सुभाष नगर स्थित विश्राम   घाट पर राजकीय सम्मान के साथ शाम को उनकी अंत्येष्टि  होगी।

पीएम मोदी ने जताया शोक
प्रधानमंत्री मोदी ने दुख जताते हुए कहा कि कैलाश सारंग जी ने मध्यप्रदेश में भाजपा को मजबूत करने के लिए कई प्रयास किए। राज्य के विकास में उनके अहम योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि सारंग को एक दयालु और मेहनती नेता के रूप में भी याद किया जाएगा। उनके निधन से मैं बहुत दुखी हूं। उनके परिवार और शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदना है।

सीएम शिवराज ने जताया दुःख 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्टेट हेंगर से 74  बंगले स्थित सारंग क घर तक पार्थिव देह के साथ गए।  परिवार के लोगों को ढांढस बंधाने के दौरान शिवराज ने कहा कि  कैलाश सारंग मेरे पिता तुल्य थे मेरे मार्ग दर्शक थे मुझे हमेशा उनका  आशीर्वाद और सहयोग मिला। मध्यप्रदेश भाजपा बाबूजी के योगदान को कबि भुला नहीं पायेगी।