मध्य प्रदेश में सरकारी नौकरियों को लेकर सीएम शिवराज का बड़ा फैसला

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट
राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (NRA) की स्थापना के लिए केंद्र के फैसले के बाद अब मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh CHauhan) ने भी बड़ा फैसला किया है| सीएम ने ट्वीट कर कहा कि प्रदेश की सरकारी नौकरियों के लिए युवाओं को अलग से कोई परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं होगी।

मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा अपने युवा बेटे-बेटियों के कल्याण के लिए हमने एक और अनूठा व क्रांतिकारी निर्णय लिया है। प्रदेश की शासकीय नौकरियों के लिए युवाओं को अलग से कोई परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं होगी। #NRA द्वारा आयोजित परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर ही इन्हें प्रदेश की शासकीय नौकरियां मिलेंगी।

ऐसा करने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य
सीएम ने आगे लिखा NRA द्वारा आयोजित परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर ही नौकरी देने का अभूतपूर्व निर्णय लेने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य है। इससे युवाओं का जीवन सहज, सुगम बनेगा। देश के दूसरे राज्य भी मध्यप्रदेश की इस पहल को अपनाकर अपने प्रदेश के बेटे-बेटियों को बड़ी राहत दे सकते हैं। उन्होंने आगे लिखा यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (NRA) के गठन के फैसले से युवाओं के भविष्य की राह आसान हुई है। अब SSC,RRB व IBPS की नौकरियों के लिए केवल एक ही परीक्षा में भाग लेना पर्याप्त होगा। देश के युवाओं की ओर से प्रधानमंत्री जी का अभिनंदन!

मप्र की शासकीय नौकरियों पर केवल प्रदेश के युवाओं का हक़
शिवराज ने आगे कहा कि मध्यप्रदेश की शासकीय नौकरियों पर केवल प्रदेश के युवाओं का हक होगा, यह हमने पहले ही तय कर दिया है। अब आपको बार-बार की परीक्षाओं के कारण होने वाले निरर्थक व्यय और आवागमन से भी मुक्ति मिल जायेगी। मेरे बच्चों तुम्हारा जीवन आनंददायी और बेहतर बने, यही मेरी प्राथमिकता है।

 

मध्य प्रदेश में सरकारी नौकरियों को लेकर सीएम शिवराज का बड़ा फैसला