भोपाल। मध्य प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। प्रदेश के लगभग सभी जिले शीतलहर की चपेट में हैं। उत्तर से आ रही बर्फीली हवाओं का असर भोपाल में भी देखने को मिल रहा है। प्रदेश के हर जिले में न्यूनतम तापमान 5 से 10 डिग्री के बीच ही रहा है। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 5 डिग्री बैतूल, रायसेन एवं उमरिया में रिकार्ड हुआ है।

प्रदेश में कोई जिला ऐसा नहीं है जहां रात का पारा 10 डिग्री से ऊपर गया हो। प्रत्येक जिले में न्यूनतम तापमान 5 से 10 डिग्री के बीच ही दर्ज हुआ है। गुना, राजगढ़ एवं श्योपुर जिलों में ‘कोल्ड डे’ रहा तथा सिवनी , बैतूल एवं रतलाम जिलों में शीतलहर चल रही है। राजधानी भोपाल में भी रात का पारा 2.4 डिग्री गिरकर सोमवार को 6.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। जो सामान्य से चार डिग्री कम है। लेकिन दिन भर गुनगुनी धूप रहने से दिन का पारा उछला और अधिकतम तापमान रविवार के मुकाबले चार डिग्री बढक़र 22.8 डिग्री सेल्सियस अंकित हुआ। हालांकि यह सामान्य से तीन डिग्री कम है।

अगले 24 घंटों के दौरान भोपाल के तापमान में एक आध डिग्री घटत या बढत हो सकती है। लेकिन सागर, इंदौर , उज्जैन , संभागों के जिलों तथा बैतूल, नरसिंहपुर, सिवनी एवं जबलपुर जिलों में कहीं कहीं शीतल दिन (कोल्ड डे) रहने का अनुमान है। इसी प्रकार रीवा , सागर , शहडोल, उज्जैन, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों में कहीं कहीं मध्यम से घना कोहरा रह सकता है। 22-23 जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ की वजह से प्रदेश में फिर बारिश और बूंदाबांदी होने के आसार है।