मध्य प्रदेश में बर्फीली हवाओं का दौर जारी, इन जिलों में पड़ सकती हैं बौछार

भोपाल। मध्य प्रदेश में शीतलहर का कहर जारी है। राजधानी भोपाल समेत कई जिले में मंगलवार को पारे में हल्का उछाल आया। जिससे सर्द हवाओं से थोड़ी राहत लोगों को मिली है। दो तीन दिन के लिये राहत भी मिली। राजधानी भोपाल मे अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान में पारा पांच -पांच डिग्री चढ़ा है और यहां बूंदाबांदी भी हुई।

भोपाल में अधिकतम तापमान कल की तुलना में 5 डिग्री बढकर मंगलवार को 27.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। यह सामान्य से दो डिग्री अधिक है। इसी प्रकार न्यूनतम भी कल के मुकाबले 5 डिग्री बढकर 11.4 डिग्री अंकित हुआ । यह भी सामान्य से एक डिग्री ज्यादा है। प्रदेश में अधिकतम तापमान में तो सब जगह इजाफा हुआ है। हालांकि मौसम विभाग के प्रदेश में 27 केन्दों पर न्यूनतम तापमान 5 से 10 डिग्री के बीच ही दर्ज हुआ है।

प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 5 डिग्री उमरिया में रिकार्ड हुआ है। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ का असर अनुमान से एक दिन पहले ही शुरू हो गया। भोपाल में बूंदाबांदी हुई। इसकी वजह हवाओं का रूख उत्तरी से दक्षिण पूर्वी भी हो जाना है, जिससे नमी आने लगी।र भोपाल, होशंगाबाद, सागर , जबलपुर , इंदौर एवं उज्जैन संभागों में बादल छाए हैं। अगले 24 घंटों के दौरान भी तापमान में इजाफा होने की संभावना है। भोपाल, होशंगाबाद एवं जबलपुर संभाग के जिलों में कहीं कहीं हल्की या गरज चमक के साथ बौछारें पडऩे का अनुमान है। दो तीन बाद न्यूनतम तापमान में फिर गिरावट आ सकती है। इसी बीच चार दिन बाद एक और पश्चिमी विक्षोभ आ सकता है।