शीतलहर की चपेट में प्रदेश, इन जिले के लिए चेतावनी जारी

cold-wave-warning-issue

भोपाल। मध्य प्रदेश में कड़ाके की ढंट पड़ रही है। पूरे प्रदेश में शीतलहर चल रही है। जिससे जन जीवन प्रभावित हो रहा है। मौसिम निभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान एक दर्जन से अधिक स्थानों पर शीतलहर चलने की चेतावनी दी है। 

प्रदेश की राजधानी भोपाल में बुधवार को भी दिन के पहर में ठंड से मामूली रुप से राहत रही। लेकिन शाम छह बजे के बाद से ठंड ने आहिस्ता-आहिस्ता असर दिखाना शुरु कर दिया। यह स्थिति पिछले तीन दिनों से बनी हुई है। दिन के पहर में हल्की ठंड महसूस की जाती है और शाम ढलते ही ठंड का असर बढऩे लगता है। यहां अगले 24 घंटों के दौरान अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 11 डिग्री तक बने रहने की उम्मीद है।

राज्य के उत्तर-पूर्वी हिस्से में आने वाले कई स्थानों के अलावा ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, टीकमगढ़, छतरपुर, पन्ना, सतना, रीवा, सीधी, सिंगरौली, शहडोल, अनूपपुर, उमरिया, डिंडौरी और मंडला जिले में कहीं-कहीं शीतलहर चलने की संभावना है। इसके अलावा उत्तर पूर्वी हिस्से में आने वाले मुरैना, भिंड, ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, अशोकनगर, अनूपपुर और दक्षिणी हिस्से में आने वाले बालाघाट और डिंडौरी में देर रात से सुबह तक कोहरे बने रहने की संभावना है।

राज्य के खजुराहो, दतिया और वनांचलन क्षेत्र में आने वाले मंडला जिले में कल जनजीवन शीतलहर के प्रभाव से गुजरा। इन क्षेत्रों में कई दिनों से ऐसी स्थिति बनी हुई है। मौसम वैज्ञानिकों ने उम्मीद जतायी है कि इन क्षेत्र में फिलहाल दो दिन तक शीतलहर से राहत मिलने के आसार नही है। राज्य में दूसरे स्थानों की अपेक्षा इन तीनों स्थानों पर सबसे ज्यादा ठंड का असर रहा। इन तीनों स्थानों पर न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।