मृतक उज्जैन TI की बेटी को अनुकंपा नियुक्ति, गृहमंत्री बोले-अगले हफ्ते से करनी है सेवा

भोपाल।
प्रदेश की शिवराज सरकार (shivraj sarkar)ने अपनी घोषणा के अनुसार उज्जैन(ujjain) के नीलगंगा थाने के तत्कालीन प्रभारी मृतक यशवंत पाल (yashwant pal)की बेटी को अनुकंपा नियुक्ति दी है। फाल्गुनी पाल को सब इंस्पेक्टर के पद पर अनुकंपा नियुक्ति दी गई है। आज शनिवार को गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने वीडियो कॉल के जरिए फाल्गुनी से बात कर समाज और प्रदेश की सेवा के लिए बधाई और आशीर्वाद दिया है। गृहमंत्री से बातचीत के दौरान फाल्गुनी पाल भावुक हो गई। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने फााल्गुनी को सांत्वना दी।

नरोत्तम मिश्रा ने बेटी फाल्गुनी का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि जो हो चुका है उसे वापस नहीं लाया जा सकता लेकिन अब उन्हें सब इंस्पेक्टर बन कर न केवल अपने परिवार की मदद करनी है बल्कि इस प्रदेश की सेवा भी करनी है।नरोत्तम मिश्रा ने बेटी फाल्गुनी पाल को बताया कि सरकार ने उन्हें सब इंस्पेक्टर की नौकरी देने का फैसला किया है, उन्हें अगले ही हफ्ते ड्यूटी ज्वाइन करनी है। नरोत्तम मिश्रा से वीडियो कॉलिंग के दौरान फाल्गुनी भावुक हो गईं।

बता दे कि बीते दिनों उज्जैन के नीलगंगा थाने में पदस्थ थाना प्रभारी यशवंत पाल की कोरोना से मौत हो गई थी।संक्रमित होने के बाद उनका इलाज इंदौर में चला था।इलाज के दौरान उनके दोनों फेफड़ों में निमोनिया था और उन्हें सांस लेने में काफी तकलीफ थी। उनका ऑक्सीजन रेशियो भी 60 प्रतिशत था। निरंतर इलाज के बाद भी उनकी स्थिति में सुधार नहीं आया। उन्हें 48 घंटे वेंटिलेटर पर भी रखा गया था क्योंकि उनका एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रक्ट सिंड्रोम काफी सीवियर था। हर संभव प्रयास के बाद भी डॉक्टर्स उन्हें बचा नहीं पाए थे। उनके निधन के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने ऐलान करते हुए कहा था कि शोकाकुल परिवार को राज्य शासन की ओर से सुरक्षा कवच के रूप में 50 लाख रुपए, असाधारण पेंशन, बेटी फाल्गुनी को उपनिरीक्षक पद पर नियुक्ति व स्व.पाल को मरणोपरांत कर्मवीर पदक से सम्मानित किया जायेगा।