सीएम के जन्मदिन पर तोते उड़ाकर फंसे कांग्रेस नेता, वन विभाग पहुंची शिकायत

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के जन्मदिन पर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पक्षियों को आज़ाद करने पर विवाद बढ़ गया है। सीएम के 73वें जन्मदिन पर कांग्रेस कार्यालय में पदाधिकारियों द्वारा पिंजरे में बंद तोते उड़ाए गए थे। इस दौरान वहां कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे। लेकिन वाइल्ड लाइफ एक्टिविस्ट अजय दुबे ने इस मामले की शिकायत वन विभाग में की है और कांग्रेस पादाधिकारियों पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। 

दरअसल, कांग्रेस कार्यालय में कमेटी के संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर सहित अन्य जिम्मेदार पदाधिकारियों की मौजूदगी में तीन तोतों के पिंजरे को लाया गया गया था। कांग्रेस पदाधिकारियों का कहना था कि वह इन पक्षियों को आज़ाद करने के लिए लाए हैं। लेकिन मामला तब बिगड़ गया जब वाइल्ड लाइफ एक्टिविस्ट अजय दुबे ने कांग्रेस द्वारा पिंजरे में बंदकर तोतो को लाने पर आपत्ति जताते हुए इसे वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 का उल्लंघन बताया है। उन्होंने वन विभाग में कांग्रेस पदाधिकारियों पर मुकदमा दर्ज कराने के लिए भोपाल डीएफओ को शिकायत की है। 

अजय दुबे का कहना है कि यह दुखद है कि संवेदनशील मुख्यमंत्री कमलनाथ के जनम्दिन पर मूक मक्षियों के साथ इस तरह का अत्याचार सार्वजनिक तौर पर किया गया। मेरी इस विषय पर पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ से बात हुई है और उन्होंने कार्यवाही का आश्वासन दिया है।