कमलनाथ के मंत्री पर कम्प्यूटर बाबा का अटैक, रेत माफियाओं को खुली धमकी

भोपाल।

म.प्र.शासन के नदी न्यास के अध्यक्ष  महांडलेश्वर कम्प्यूटर बाबा का बड़ा बयान सामने आया है। बाबा ने खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल पर पलटवार किया है।मध्यप्रदेश में किसी भी कीमत पर नदियों से अवैध उत्खनन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आपने मुझे कहा है बाबा गिरी करे यदि आप दो शब्द रेत माफियाओं के खिलाफ बोलते तो मुझे व प्रदेश की जनता को बहुत अच्छा लगता है।

बाबा का कहना है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जो मुझे नदी न्यास का काम सौंपा है, उसको बचाने के लिए मै लगातार दौरे कर रहा हूं।मुझे नर्मदा को बचाना है, प्रदेश की नदियों को बचाना है।मैं किसी भी हालत में नदी किनारे एक भी पेड़ नही कटने दूंगा और ना ही अवैध उत्खनन होने दूंगा।बाबा ने आगे कहा कि प्रदेश की मुख्यमंत्री की मंशा है कि प्रदेश की नदियां कल कल बहे, मैं उसे पूरा करुंगा। पिछली सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछली शिवराज सरकार ने जो अवैध उत्खनन कराया है इससे प्रदेश की नदियां और नर्मदा तहस नहस हो गई है। वही कैबिनेट मंत्री प्रदीप जायसवाल की टिप्पणी को लेकर बाबा ने कहा है कि मध्यप्रदेश में किसी भी कीमत पर नदियों से अवैध उत्खनन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आपने मुझे कहा है बाबा गिरी करे यदि आप दो शब्द रेत माफियाओं के खिलाफ बोलते तो मुझे व प्रदेश की जनता को बहुत अच्छा लगता है।

वही बाबा ने रेत माफियाओं को दो टूक शब्दों में कहा कि किसी भी सुरत में मैं नर्मदा और प्रदेश की नदियों में अवैध खनन नही करने दूंगा।अगर वे अवैध तरीके से खनन रात में करते है तो पूरा संत समाज नर्मदा के किनारे डेरा जमाएगा।पूरा संत समाज नदियों की रक्षा करेगा , समाज की रक्षा करेगा और मुख्यमंत्री कमलनाथ की मंशा पूरी करेगा।

बता दे कि रविवार को पन्ना जिले में डायमंड पार्क और डायमंड प्रोसेसिंग यूनिट की घोषणा करने पहुंचे  खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल ने कम्प्यूटर बाबा द्वारा केन नदी में बाबाओं की फौज उतारने वाले बयान पर पलटवार किया था। खनिज मंत्री ने कहा था कि नदी न्यास के अध्यक्ष एवं कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त कम्प्यूटर बाबा एक बाबा है। साथ ही एक धार्मिक व्यक्ति है। वह अपनी बाबागीरी करें, खनिज विभाग से उनका कोई लेना देना नहीं है।