भोपाल में एक और मरीज़ के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि, 3 हुई संख्या

भोपाल/दिनेश यादव

राजधानी में एक और मरीज कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इस तरह राजधानी में  कोरोना पॉजिटिव वायरस का ये तीसरा मामले की पुष्टि हुई है और कलेक्टर तरूण पिथौड़े ने इसकी पुष्टि की है। कोरोना वायरस पॉजिटिव व्यक्ति रेलवे का गार्ड है और गुरूवार को सर्दी जुकाम होने के बाद उन्होने रेलवे अस्पताल में जांच कराई। डॉक्टरों ने उनके लक्षण देख उन्हें एम्स में रेफर कर दिया और वहां जांच होने के बाद उनके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई।  53 वर्षीय रेलवे गार्ड की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उन्हें एम्स के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है। भोपाल के अशोका गार्डन में रहने वाले ये गार्ड का अपनी ड्यूटी के दौरान झांसी नागपुर औरंगाबाद समेत अन्य शहरों में आना जाना रहा था। फिलहाल उनकी विदेश में आने-जाने की हिस्ट्री नहीं है लेकिन बताया जा रहा है उन्हें खुद नहीं मालूम था कि वो कोरोना संक्रमित है। उसने 22 मार्च तक ट्रेनें चलाई है और इसके साथ कई लोको पायलट, सहायक लोको पायलट लॉबी से लेकर रनिंग रूम के सहयोगी भी संपर्क में आए हैं। उनके पॉजिविट आने के बाद जिला अस्पताल की मेडिकल टीम ने उनकी कॉलोनी में आसपास रहने वालों और उनके घरवालों की भी जांच की है और घरवालों को भी घर में आइसोलेटेड कर दिया है

इसी के साथ अब भोपाल में कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की संख्या बढ़कर 3 हो गई है, पहले एक पत्रकार और उनकी बेटी कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई थी। इसके अलावा इंदौर में ये संख्या 13 है और अब तक वहां 2 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें एक उज्जैन की 65 वर्षीय महिला मरीज की और दूसरी इंदौर के 35 वर्षीय मरीज की इलाज के दौरान मौत हुई है। केंद्र और प्रदेश सरकार सभी देश प्रदेश के लोगों से अपील कर रही है कि कोई भी सदस्य अपने घरो से बाहर ना निकले एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ भी आप सभी दर्शकों से यह अपील करता है कि कोरोना वायरस जैसी इस महामारी से लड़ने के लिए आप सभी अपने अपने घर पर ही रहे बेवजह सड़कों और अन्य जगहों पर ना निकले यही एक ऐसा उपाय है जिससे कि कोरोना वायरस से बढ़ रही सदस्यों की संख्या को कम किया जा सकता है लॉक डाउन का पूरी तरह से पालन करें जिससे कि हम इस कोरोना वायरस से लड़कर इसे भारत देश से भगा सकें डरना नहीं लेकिन सावधानी और सतर्कता आप सभी के लिए बेहद जरूरी है।