KAMAL NATH

भोपाल। सीएम कमलनाथ और दिग्गज कांग्रेस नेता भले ही लाख दावे कर लें कि सब ठीक है, लेकिन अब भी उनका संकट टलता दिख नहीं रहा है। एक तरफ कांग्रेस नाराज़ और असंतुष्ट विधायकों को समझाने की कोशिशों में लगी है वहीं रविवार रात से कुछ और कांग्रेस विधायकों का पता नहीं चल पा रहा है। कुछ और विधायकों के लापता होने के साथ ही कुछ कांग्रेस विधायकों ने सरकार द्वारा दिये गए सुरक्षाकर्मी भी लौटा दिये हैं। सिंधिया खेमे के कई विधायकों के फोन बंद आ रहे हैं और कई विधायकों ने अपने सुरक्षाकर्मी भी लौटाा दिए हैं। जसवंत जाटव, मुन्नालाल गोयल, प्रद्युम्न सिंह तोमर, गिर्राज दंडोतिया, ओ पी एस भदौरिया, मंत्री इमरती देवी जैसे विधायकों से कांग्रेस का संपर्क नहीं हो पा रहा है।

बड़ी कोशिशों के बाद कांग्रेस पिछले दिनों रूठे और लापता विधायकों में से कुछ को वापस लाने में कामयाब हुई और मनाने में जुटी हुई थी कि ये नया संकट खड़ा हो गया है। इसी के साथ जिन विधायकों ने सरकारी सुरक्षाकर्मियों को लौटा दिया है, उनके इस कदम से बगावती तेवर साफ ज़ाहिर हो रहे हैं। इस कारण एक बार फिर पार्टी में खलबली मच गई है।