congress-accused-of-violating-code-of-conduct-on-pm-modi-complaint-in-ec-mp

भोपाल/छिंदवाड़ा।

रविवार को छिंदवाड़ा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पीसीसी चीफ कमलनाथ पर दिए बयान को लेकर सियासी बवाल मच गया है। कांग्रेस ने पीएम मोदी के बयान की चुनाव आयोग में शिकायत की है कांग्रेस ने आरोप लगाया की पीएम ने अपने भाषण से जनता को गुमराह करने का काम किया है।प्रधानमंत्री के इस बयान पर आचार सहिंता के उल्लंघन का मामला दर्ज होना चाहिए।बताते चले कि मोदी ने अपने भाषण मे कहा था कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्षजी वीडियो में कहते हैं कि गुंडा-बदमाश-चोर-लुटेरा-भ्रष्टाचारी उम्मीदवार चलेगा, लेकिन जीतने वाला कैंडिडेट चाहिए। जिन्होंने ऐसे लोगों को सेलेक्ट किया है, क्या ऐसे लोगों को मध्यप्रदेश दिया जा सकता है।ऐसे लोगों को लाया जाएगा, तो मध्यप्रदेश का क्या हाल होगा.. आपने सोचा है। 

कांग्रेस का आरोप है कि कांग्रेस कमलनाथ के एक झूठे , एडिटेड , फ़ेक वीडियो की पूर्व में ही चुनाव आयोग को शिकायत कर इसको पोस्ट करने वालों पर प्रकरण दर्ज करने की माँग कर चुकी है। चुनाव आयोग कांग्रेस की शिकायत पर इसकी जाँच भी करवा रहा है, लेकिन बावजूद इसके देश के सर्वोच्च पद पर बैठे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी छिन्दवाड़ा में एक बड़ा झूठ परोस गये।इस वीडियो में जो नहीं है , उसको उन्होंने अपने भाषण में बोला। मोदी जी ने कहा कि इस वीडियो में कमलनाथ जी कह रहे है कि हमें चोर- उचक्के- गुंडा  सब चलेगा , बस जीतने वाला चलेगा। जबकि इस फ़ेक , एडिटेड वीडिओ में भी ऐसा नहीं है , जो मोदी जी ने अपने भाषण में कहा। 

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी के इस बयान को शर्मनाक बताते हुए इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है। शिकायत में कहा है कि वीडियो फेक है और उस वीडियो में भी कमलनाथ ने ये नहीं कहा कि वे गुंडे-बदमाशों को टिकट देंगे। कांग्रेस ने खुली चुनौती देते हुए कहा कि या तो ऐसा वीडियो भाजपा , मोदी जी सामने लाये या फिर मोदी जी प्रदेशवासियों से इस सफ़ेद झूठ के लिये माफ़ी माँगे, नही तो कांग्रेस कड़ी कार्रवाई की मांग करेगी।

प्रधानमंत्री की छवि खराब कर रही कांग्रेस : बीजेपी

भाजपा ने कांग्रेस द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि खराब किए जाने की शिकायत की है। पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में शिकायत दर्ज कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। शिकायत में कहा गया है कि कांग्रेस द्वारा सोशल मीडिया पर एक वीडियो प्रसारित किया गया है, जिसमें प्रधानमंत्री के हाथों में एक तख्ती दिखाई गई है। इस तख्ती पर कांग्रेस का चुनाव चिह्न अंकित है। लिखित शिकायत में सोशल मीडिया में प्रसारित इस वीडियो पर रोक लगाने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है। 

लोकेन्द्र पाराशर, प्रदेश मीडिया प्रभारी, बीजेपी