कांग्रेस ने केन्द्रीय मंत्री पर लगाया धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप

Congress-accuses-Central-Minister-of-provoking-religious-sentiments

भोपाल/होशंगाबाद

मध्यप्रदेश विधानसभा से पहले बयानबाजी का दौर तेजी से चल रही है। सत्ता की आस में नेता मर्यादा लांग बेतूके बयान दे रहे है। अब केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के सरताज सिंह को लेकर दिए गए बयान के बाद सियासत गर्मा गई है। भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने है। कांग्रेस ने बीजेपी पर धार्मिक भावनाओ को भड़काए जाने का आरोप लगाया है । इसके साथ ही कांग्रेस ने चुनाव आयोग में इसकी शिकायत की है।वही स्मृति के इस बयान ने होशंगाबाद की राजनीति में भी भूचाल ला दिया है।

दरअसल, बीते दिनों भाजपा से टिकट ना मिलने के चलते पूर्व मंत्री सरताज सिंह कांग्रेस में शामिल हो गए थे। कांग्रेस ने उन्हें सिवनी मालवा से उम्मीदवार बनाया है। गुरुवार को होशंगाबाद पहुंची स्मृति से जब इस बारे में सवाल किया तो उन्होंने कांग्रेस को सिक्खो के नरसहांर करने वाली पार्टी करार दे दिया।इतने पर ही ईऱानी नही रुकी उन्होंने आगे कहा कि सिक्ख समाज का नरसंहार करने वाली कांग्रेस पार्टी के कृत्यों को भूलाकर कांग्रेस पार्टी का दामन थामने वाले सिक्ख समुदाय के सरताज सिंह ने अपनी समाज की हुई दुर्दशा को भी भुला दिया। इस बयान के बाद बवाल मच गया है। कांग्रेस ने ईऱानी पर चुनाव की आड़ में धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही होशंगाबाद से सिक्ख समुदाय के कांग्रेस प्रत्याशी का नेतृत्व स्वीकार नहीं होने की बात भी कही।स्मृति ईरानी के इस बयान पर होशंगाबाद की राजनीती में बबाल मच गया है, वही होशंगाबाद चुनाव अभिकर्ता कांग्रेस प्रत्याशी व जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष बीनू बुधोलिया ने चुनाव आयोग से इस बयान की लिखित शिकायत दर्ज कराई है।