कांग्रेस की भाजपा नेताओं को सलाह, यूरिया की कमी पर दें गिरफ्तारी

भोपाल। यूरिया की कमी और सागर से बीजेपी विधायक प्रदीप लारिया की गिरफ्तारी पर भड़की बीजेपी पर कांग्रेस ने पलटावर किया है। शिवराज सिंह चौहान के लारिया के समर्थन में गिरफ्तारी देने के एलान पर कांग्रेस ने भाजपाईयों को सलाह दी है कि भाजपा नेताओं को केंद्र से कम यूरिया देने के विरोध में गिरफ्तारी देना चाहिए। मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बीजेपी विधायक प्रदीप लारिया पर मामला दर्ज होने पर कहा है कि कानून का उल्लंघन करने वाले कोई भी नेता हो उसके खिलाफ कांग्रेस सरकार में कार्रवाई होगी। यूरिया के लिए धरना देने वाले भाजपा नेताओं को केंद्र से कम यूरिया देने के विरोध में गिरफ्तारी देना चाहिए।

दरअसल, प्रदेश भर में इस समय खाद नहीं मिलने से किसान नाराज है| यूरिया के लिए किसानों को खेती छोड़ सुबह से शाम तक वितरण केंद्रों पर घंटों लाइन में लगना पड़ रहा है। कई स्थानों पर पुलिस के साए में यूरिया बंट रहा है। वहीं कई जगह हालात बिगड़ रहे हैं और सड़कों पर किसानों की नाराजगी देखनी पड़ रही है| सागर में राज्य विपणन संघ मकरोनिया के गोदाम पर यूरिया खाद लेने आए किसानों ने यूरिया न मिलने व अव्यवस्थाओं के चलते मंगलवार को जमकर नारेबाजी की। इस दौरान नरयावली विधायक प्रदीप लारिया भी यहां पहुंच गए और किसानों की समस्याएं सुनकर उनके साथ धरने पर बैठ गए। धरने के दौरान रास्ता रोके जाने से नाराज एक व्यक्ति ने उनके खिलाफ थाने में एफआईआर करवा दी।  गनेश पटेल पिता मुन्नाा पटेल 32 निवासी गंभीरिया मकरोनिया वहां से निकले जिन्होंने विधायक प्रदीप लारिया, बाबूलाल अहिरवार सहित अन्य 10 लोगों द्वारा गलत तरीके से रोकने की शिकायत थाने में दर्ज कराई। जिस पर विधायक प्रदीप लारिया सहित अन्य 10 लोगों पर मकरोनिया थाने में धारा 147 (उपद्रव करने) व धारा 342 ( किसी व्यक्ति को गलत तरीके से रोकने) का मामला दर्ज किया गया।

यूरिया दो या गिरफ्तार करो

पूर्व सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कमलनाथ सरकार पर हमला बोला है| उन्होंने लिखा है ‘कमलनाथ जी के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार निहायती निकम्मी, अकर्मण्य व नाकारा है! किसानों की आवाज़ उठाने वाले विधायक प्रदीप लारिया पर प्रकरण दर्ज किया गया है जिसका मैं कड़ा विरोध करता हूँ। प्रशासन उन्हें गिरफ़्तार करे, मैं उनके साथ गिरफ्तारी देने आऊँगा! यूरिया दो या गिरफ्तार करो!”|