कांग्रेस नेता ने लगाए महिला नेत्री पर लगाए झूठे मामले में फंसाने का आरोप

डिंडौरी। प्रकाश मिश्रा।

राइस मिल व्यवसाई एवं प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि रमेश राजपाल ने महिला नेत्री जिला पंचायत सदस्य चंद्र कला पर झूठे मामले में फंसाने का आरोप लगाया । प्रेस वार्ता आयोजित कर रमेश राजपाल ने मीडिया को बताया कि महिला नेत्री द्वारा रंजिशन अपने राजनैतिक रसूख का फायदा उठाकर उन्हें झूठे मामले में फंसाने का षड्यंत्र रचा जा रहा है । जिसकी विधिवत रिपोर्ट उनके द्वारा 9 जनवरी 2020 को पुलिस अधीक्षक के समक्ष उपस्थित होकर ऑडियो वीडियो रिकॉर्डिंग सहित लिखित तौर पर की है ।

कांग्रेस नेता का कहना है कि उक्त महिला का कांग्रेस से कोई लेना देना नहीं है वह पहले ही पार्टी से इस्तीफा दे चुकी हैं। दरअसल पूरा मामला रमेश राज्यपाल द्वारा 9 दिसंबर 2019 को पुलिस अधीक्षक से की गई शिकायत का है। जिसमें रमेश राजपाल ने महिला नेत्री पर जातिगत आधार पर पूरे परिवार जेल की हवा खिलाने की धमकी देने का आरोप लगाया था। जिसके बाद महिला नेत्री द्वारा लगभग डेढ़ माह बाद लिखित रिपोर्ट पुलिस में की गई है ।प्रे स वार्ता में रमेश राजपाल ने यह भी बताया कि 9 जनवरी से पहले भी 9 दिसंबर को एक शिकायत उन्होंने पुलिस अधीक्षक से की थी जिसमें इस बात का उल्लेख किया गया था कि उक्त महिला नेत्री के द्वारा उन्हें झूठे मामले में फंसाने का षड्यंत्र रचा जा रहा है इस बात का भी उल्लेख किया था कि उन्हें शहर के अलावा बाहर से लड़कियों से झूठे आरोप लगाकर भी फंसाने का षड्यंत्र किया जा रहा है। बता दें कि यह पूरा मामला उस समय अधिक चर्चा में आ गया जब महिला नेत्री चंद्रकला परस्ते ने शहपुरा आए हुए मध्य प्रदेश के वित्त मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री तरुण भनोट को लिखित शिकायत करते हुए रमेश राज्यपाल पर जान से मारने की धमकी देते हुए एसिड अटैक करवा देने का सनसनीखेज आरोप लगाया था। जिस पर प्रभारी मंत्री ने जांच कर उचित कार्रवाई किए जाने का आश्वासन भी दिया था ।इस संबंध में जब रमेश राजपाल से चर्चा की गई तो उनका साफ तौर पर कहना था कि उनके व्हाट्सएप की डीपी पर जो तस्वीर डाली गई है वह फिल्म छपाक से प्रेरित होकर डाली गई है लेकिन महिला नेत्री ने उक्त तस्वीर को लेकर भ्रामक प्रचार प्रसार किया है रमेश राजपाल ने कहा कि उन्होंने कभी भी उक्त महिला को जातिगत या अन्य किसी भी प्रकार से अपमानित या प्रताड़ित करने का प्रयास नहीं किया है। उन्होंने पुलिस प्रशासन से सभी तथ्यों को जांच कर उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here