भोपाल कलेक्टर की पोस्टिंग को लेकर कांग्रेस दिग्गजों में ठनी

congress-leader-confront-on-bhopal-collector-issue

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में अभी तक कलेक्टर की ताजपोशी नहीं हुई है । एक हफ्ते से कलेक्टर की तलाश जारी है। लेकिन कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में मतभेद के चलते नाम तय नहीं हो पा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक लोकसभा चुनाव में पराजित हो तुके दिग्विजय सिंह एक प्रमुख कारण हैं। सूत्रों के मुताबिक सिंह चाहते हैं कि 2009 बैच के प्रमोटी आईएएस मनीष सिंह को भोपाल कलेक्टर बनाया जाए। 

वहीं, सीएम सचिवालय से जुड़े लोग 2009 बैच के ही आईएएस तेजस्वी नायक के पक्ष में हैं। हालांकि, कांग्रेस का एक धड़ा 2008 बैच के आईएएस विशेष गढ़पाले का पक्षधर भी है। भोपाल कलेक्टर रहे सुदाम खाड़े को भी हटवाने के पीछे सिंह को वजह माना जा रहा है। भोपाल में कलेक्टर को लेकर एक राय बनी हुई है कि बीजेपी और पूर्व सीएम शिवराज सिंह के निकट रहे किसी भी अफसर को भोपाल में मौका नहीं दिया जाए। मनीष सिंह भोपाल में दो बार नगर निगम कमिश्नर रह चुके हैं। उस दौरान उनकी कार्यशैली से कांग्रेस के सभी स्थानीय नेता वाकिफ हैं। इसलिए मनीष सिंह के नाम पर सहमति नहीं बनती दिख रही है।