उपचुनाव के ऐलान से पहले कांग्रेस को झटका, पूर्व विधायक भाजपा में शामिल

कांग्रेस की पूर्व विधायक शकुंतला खटीक को दिल्ली में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिलाई भाजपा की सदस्यता, कोर्ट ने सुनाई थी 3 साल की सजा

Shakuntla Khatik Join Bjp

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| उपचुनाव (By-election) के ऐलान से पहले मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में नेताओं के दल बदल का दौर जारी है| भाजपा (BJP) हो या कांग्रेस (Congress) दोनों ही दल इसी क्रम में आगे बढ़ रहे हैं| इस बीच अब कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है| कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री व पूर्व विधायक शकुंतला खटीक (Shakuntala Khatik) भाजपा में शामिल हो गई हैं| पूर्व विधायक खटीक को दिल्ली में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने भाजपा की सदस्यता दिलाई| सिंधिया ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है|

शिवपुरी जिले के करेरा विधानसभा से पूर्व विधायक शकुंतला खटीक का नाम उस समय सुर्ख़ियों में आया था जब उन्होंने मंदसौर में हुए गोलीकांड के विरोध में आठ जून 2017 को करेरा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला दहन किया था ओर तभी पुलिस बल ने अनियंत्रित भीड़ को काबू करने के लिए वज्र वाहन से पानी की बौछार करना शुरू कर दी। इससे आक्रोशित खटीक ने वहां मौजूद भीड़ को उकसाते हुए कहा कि वे थाने में आग लगा दें बाकी वह संभाल लेंगी। इस मामले में विशेष अदालत ने 30 नवंबर 2019 को पूर्व विधायक को तीन साल की सजा और 35 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया था। हालाँकि अब मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने शकुंतला खटीक की सजा पर रोक लगा दी है। जिसके बाद उनके चुनाव लड़ने का रास्ता साफ़ हो गया है|

करैरा उपचुनाव में कांग्रेस ने प्रागीलाल जाटव को प्रत्याशी बनाया है| वही भाजपा ने अभी प्रत्याशी का एलान नहीं किया है| अब शकुंतला खटीक का उपचुनाव के एलान से पहले भाजपा में जाना बड़े संकेत दे रहा है|