वीडियो : कांग्रेस नेत्री का बयान, कभी बीजेपी के लिए डायन महंगाई अब उसकी डार्लिंग हुई

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने महंगाई को लेकर केंद्र सरकार पर कटाक्ष किया है। सुप्रिया का कहना है कि जिस महंगाई को बीजेपी कभी डायन कहा करती थी वह उसकी डार्लिंग हो गई है। उन्होंने कहा कि आने वाले 5 राज्यो के विधानसभा चुनाव में महंगाई एक बड़ा मुद्दा होगा।

ऑनर किलिंग : लव मैरिज करने वाली बेटी को पिता ने दुष्कर्म करने के बाद उतारा मौत के घाट

केंद्र सरकार के खिलाफ भोपाल के प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पहुंची कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आसमान छूती पेट्रोल और डीजल की कीमतों में से कुछ रुपए कम करके सरकार वाहवाही लूटी चाहती है। लेकिन जनता सब जानती है। बीजेपी को यह भी उपचुनाव के परिणाम के कारण करना पड़ा। सुप्रिया ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के मूल्यों में कमी के बावजूद भारत में लगातार तेल की कीमतें बढ़ती रही।

Electric Vehicle खरीदने जा रहे है तो पढ़े ये खास जानकारी, टूटेंगे सारे मिथक

सुप्रिया ने कहा कि सरसों के एक लीटर तेल को खरीदने में किसान को 14 किलो गेहूं बेचना पड़ता है। रसोई गैस के सिलेंडर की कीमत 1000 रू हो गई है जो मध्यम वर्ग के लिए असहनीय है। सुप्रिया ने तंज कसते हुए कहा कि जिस महंगाई को लेकर बीजेपी कभी डायन शब्द का प्रयोग किया करती थी वह महंगाई अब बीजेपी की डार्लिंग हो गई है। केंद्र पर पेट्रोल और डीजल की बढ़ी कीमतों से 3.5 लाख करोड़ रू कमाने का आरोप लगाते हुए सुप्रिया ने कहा कि राज्य सरकारों को इस में से केवल 5000 करोङ रू मिले।

सुप्रिया ने देश के अंदर बढ़ रही बेरोजगारी पर भी चिंता व्यक्त की और कहा जब सब सेक्टरों का निजीकरण होता जा रहा है तो आरक्षण के मायने ही क्या बचे हैं। 600 से ज्यादा किसानों की किसान आंदोलन में मौत हो चुकी है लेकिन सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही। सुप्रिया ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में महंगाई एक बड़ा मुद्दा होने के संकेत दिए।