फिर सामने आया लक्ष्मण का दर्द

भोपाल।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वर्तमान में विधायक लक्ष्मण सिंह जबलपुर में गुरुवार को एक बार फिर दिल का दर्द बयां कर बैठे ।दरअसल पत्रकारों ने उनसे पूछा था अब तक उन्हें सरकार में कोई महत्वपूर्ण पद क्यों नहीं मिला ।इस पर लक्ष्मण सिंह बोले कि “मैं और कांतिलाल भूरिया जैसे वरिष्ठ शायद इस योग्य नहीं है कि उन्हें कोई अहम जिम्मेदारी सौंपी जाए ।”पांच बार सांसद और चार बार विधायक रह चुके लक्ष्मण सिंह पहले भी कई बार अपनी ही सरकार के फैसलों और निर्णयों पर निशाना साध चुके हैं। दरअसल अपनी वरिष्ठता के बाद भी लक्ष्मण सिंह को न तो सरकार में कोई जगह मिली और ना ही संगठन में। उप चुनावों को लेकर पूछे गए सवाल पर लक्ष्मण सिंह ने कहा कि जो कार्यकर्ताओं को संगठित करने की क्षमता रखें, उन्हें संगठन की जिम्मेदारी दी जानी चाहिए। कांग्रेस पार्टी को अपने संगठन को मजबूत करना चाहिए क्योंकि संगठन ही चुनाव जिताता है। इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में लक्ष्मण सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री का पद गौरवशाली होता है और उनकी नीतियों की आलोचना तो की जा सकती है लेकिन उन पर व्यक्तिगत आरोप लगाना ठीक नहीं।