कांग्रेस विधायक ने खोला CM के खिलाफ मोर्चा, कल विधानसभा के बाहर देंगे धरना

kamalnath

भोपाल।पूजा खोदाणी।
सालों बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस की सरकार ने भले ही प्रदेश में एक साल पूरा कर लिया हो लेकिन अबतक विधायकों और मंत्रियों से पटरी नही बैठा पाई है। आए दिन किसी ना किसी मुद्दे को लेकर कांग्रेस विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ मुखर हो रहे है।कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह और हरदीप डंग के बाद ग्वालियर पूर्व से कांग्रेस विधायक मुन्नालाल ने चिट्ठी लिखकर सीएम कमलनाथ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।इसी के चलते आज उन्होंने विधानसभा के विशेष सत्र की कार्यवाही का भी बहिष्कार कर दिया और अब कल शनिवार को विधानसभा के बाहर धरना देने की तैयारी में है।वही मुन्नालाल द्वारा लिखा गया दो पेज का पत्र सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।मुन्नालाल सिंधिया के करीबी माने जाते है ।

विधायक की इस धमकी के बाद सरकार में हड़कंप मच गया है। हैरानी की बात ये है कि विधायक की नाराजगी उस समय सामने आई है जब सिंधिया के डिनर डिप्लोमेसी को लेकर सियासत गर्म है। वही आज सिंधिया सात महिने बाद पीसीसी में दौरा करने पहुंचे और कार्यकर्ताओं और नेताओं से चर्चा की। सुत्रों की माने तो विधायक को मनाने की कोशिश की जा रही है।चुंकी निकाय चुनाव से पहले कांग्रेस कोई रिस्क नही लेना चाहती, कांग्रेस नही चाहती की आपसी फूट का बीजेपी फायदा उठाए। यही वजह है कि हाल ही में पार्टी लाइन से बाहर जाकर बयान देने वाले विधायकों पर पार्टी द्वारा कोई कार्रवाई नही की गई है।हालांकि नसीहत जरुर दी गई।

दरअसल, कांग्रेस विधायक अपने क्षेत्र के कार्यों की अपेक्षा को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ से नाराज है। उनका कहना है कि सत्ता में आने से पहले कांग्रेस सरकार ने गरीब भूमिहिनों को आवास के लिए पट्टा देने का वचन दिया था, जबकी इस संबंध में मेरे द्वारा कई बार विधानसभा में ध्यानाकर्षण भी लाया गया है लेकिन एक साल बीत जाने के बावजूद अबतक वचन का पालन नही किया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल करते हुए कहा है कि आखिर इस काम में इतनी देरी क्यों।मेरे द्वारा कई बार मंत्रियों को भी पत्र लिखे जा चुके है औऱ कई बार मैं आपको भी पत्र लिख चुका है, बावजूद इसके समस्या का समाधान नही हो रहा है।जनता ने मुझे विधायक चुना है और उनका ख्याल रखना मेरा फर्ज है।इसलिए मैं आपका ध्यान आकर्षित करवाने के लिए कल शनिवार को विधानसभा भवन के बाहर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरना दूंगा।

ये है विधायक की मांगे
1.ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के तहत पिछले 20 साल से निवास कर रहे 12100 गरीब भूमिहीन परिवारों को पट्टे देने हेतु संलग्न सूची अनुसार डीएम ग्वालियर को आदेश प्रदान करें।
2. मध्य प्रदेश में 2014 भाजपा राज्य में भूमिहीनों को पट्टे देने के लिए जो सर्वे किया गया था, इस सर्वे को निरस्त कर भूमिहीन गरीबों को पट्टे देने हेतु दोबारा सर्वे आदेश प्रदान करें.3. ग्वालियर में एडीएम अनूप सिंह द्वारा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार करने की शिकायतें आ रही हैं, इसलिए इसे तत्काल ट्रांसफर किया जाए।
4. मुरार नदी के संरक्षण और रिंग रोड बनाने के प्रोजेक्ट को मंजूरी प्रदान की जाए।
5. विधायकों की समस्याओं का निराकरण करने के लिए 15 दिन में एक बार प्रत्येक संभाग के विधायकों को बुलाकर विकास कार्यों की समीक्षा की जाए।