कांग्रेस विधायकों ने पार्टी के खिलाफ खोला मोर्चा, इस सीट पर उम्मीदवार बदलने की मांग

Congress-MLAs-open-front-against-kamalnath-government

भोपाल।  लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पार्टी के दो विधायकों ने मोर्चा खोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को एक पत्र लिखकर उज्जैन लोकसभा सीट से उम्मीदवार बदलने की मांग की है। मंदसौर जिले की आलोट विधानसभा के विधायक ने यह पत्र लिखा है।

आलोट से कांग्रेस विधायक मनोज चावला ने राहुल गांधी को पत्र लिखकर उज्जैन लोकसभा उम्मीदवार को बदले जाने का सुझाव दिया है। उन्होंने मांग कि है की बाबूलाल मालवीय की जगह किसी युवा नेता को उम्मीदवार बनाया जाए। उन्होंने लिखा है कि पार्टी को उनके सुझाव पर विचार करना चाहिए और किसी नए चेहरे को मौका देना चाहिए जिससे इस सीट पर जीत हासिल की जा सके। उन्होंने कहा कि मालवीय इस क्षेत्र में सक्रिय नहीं है न ही वह स्थानीय कार्यकर्ताओं की पसंद हैं। उन्होंने पार्टी को चेताया है कि अगर समय रहते बदलाव नहीं किया गया तो बड़ी हानि की आशंका है। 

कर्ज माफी की प्रक्रिया में दोरी से नाराज विधायक

चावला की तरह सुवासरा विधानसभा से विधायक हरदीप सिंह डांग ने भी किसानों के कर्ज माफी में हुई देरी पर नाराजगी जाहिर की है। यही नहीं उन्होंने मंगलवार को पार्टी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया। लेकिन आचार संहिता लागू होने के कारण उन्हें प्रशासन ने रोक दिया। सूत्रों के मुताबिक डांग और उनके समर्थक कांग्रेस के जिला मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन करने के लिए आगे बढ़ रहे थे लेकिन प्रशासन ने उन्हें सीतामऊ गांव में ही रोक दिया। अधिकारियोंं ने उन्हें आश्वासन दिया कि किसानों से संबंधित कार्य समय पर किया जाएगा। बता दें डांग मंदसौर लोकसभा से कांग्रेस के अकेले विधायक हैं। बावजूद इसके पार्टी उनकी मांगों की अनदेखी कर ही है।