कांग्रेस संगठन में करेगी बड़ी सर्जरी, पदाधिकारियों पर होगी कार्रवाई

congress-will-do-major-changes-in-organisational-structure-

भोपाल। लोकसभा चुनाव में पार्टी का आदेश दरकिनार कर मरमर्जी करने वाले पदाधिकारियों पर प्रदेश कांग्रेस जल्द ही कार्रवाई करने वाली है। विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी ने 1500 से अधिक नियुक्तिया की थी। अब लोकसभा चुनाव में खराब परीणाम आने के बाद इनमें से कई पर गाज गिरना तय माना जा रहा है। 

दरअसल, लोकसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सख्ती से निर्देश दिए थे कि प्रदेश पदाधिकारी और जिला पदाधिकारी अपने क्षेत्र में रह कर पार्टी के प्रत्याशी के लिए प्रचार से लेकर पूरी चुनावी जिम्मेदारी निभाएंगे। लेकिन की पदाधिकारी अपने नेताओं के साथ उनके क्षेत्र में चुनावी कार्य करते रहे। अब ऐसे पदाधिकारियों की लिस्ट तैयार हो रही है। जिसके बाद इन पदाधिकारियों पर गाज गिरना तय माना जा रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि ये अपने नेता के क्षेत्र में सक्रिय रहे। जिसके चलते पार्टी पूरी ताकत से मतदाताओं के सामने प्रदेश सरकार के काम-काज नहीं रख सकी। वहीं, 100 से अधिक पार्टी प्रवक्ताओं की फौज भी प्रदेश सरकार के पिछले पांच महीनों के काम-काज को लेकर मजबूती से नहीं ख सके। इनमें से कुछ पर गाज गिरना लगभग तय है।