प्रतिबंध के बावजूद सीएम का पोस्टर लेकर महाकाल मंदिर में घुसे कांग्रेसी

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने जन्मदिन पर पार्टी नेता एवं समर्थकों से किसी भी तरह का होर्डिंग्स एवं पोस्टर नहीं लगाने की अपील की थी। लेकिन सीएम की इस अपील का उज्जैन कांग्रेस पर असर नहीं हुआ। सीएम के जन्मदिन पर बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मुख्यमंत्री कमलनाथ का पोस्टर लेकर महाकाल मंदिर में  घुस गए। कांग्रेसियों ने नंदी हॉल के रेंप पर तिलक प्रसाद काउंटर के समीप मुख्यमंत्री की तस्वीर पर चंदन का तिलक लगाया। इसके बाद परिसर में आकर पोस्टर के साथ फोटो खिंचवाए। मंदिर में पोस्टर बैनर लेकर प्रवेश करने पर प्रतिबंध है। 

कांग्रेस नेता महाकाल मंदिर की परंपरा के विपरीत मुख्यमंत्री के पोस्टर लेकर भीतर घुस गए। इससे श्रद्धालुओं को कतार में लंबा इंतजार करना पड़ा। वहीं सीएम पोस्टर व फोटो को लेकर दर्शनार्थियों का कहना था कि हम भी बाहर रहने वाले अपने परिजनों के जन्म दिन पर उनके फोटो लेकर मंदिर में आएंगे तथा जन्म दिन मनाएंगे। इस संंबंध में उज्जैन जिला कांग्रेस ने दलील दी थी कि हम पोस्टर तस्वीर को गर्भगृह में नहीं ले गए थे। इसे परिसर में रखा गया था। श्रद्धालुओं को परेशानी जैसी कोई बात नहीं सामने आई थी। हमने सीएम का जन्मदिन कौमी एकता के रूप में मनाया।

गौरतलब है कि जन्मदिन से पहले सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर कार्यकर्ताओं, समर्थकों को अपील करते हुए कहा था कि कहीं भी बैनर पोस्टर लगाकर उनका जन्मदिन न मनाएं| सीएम ने कहा प्रशासन को भी स्पष्ट निर्देश है कि प्रदेश में मेरे जन्मदिवस पर कही भी अवैध होर्डिंग-पोस्टर-बैनर लगे दिखे , भले उसमें मेरा फ़ोटो लगा हो , तत्काल उसे हटा दे’। ‘नियम के पालन में कोई कोताही ना बरते। इसके बावजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा पोस्टर लेकर मंदिर में जाने पर सवाल उठ रहे हैं| 

Madhya Pradesh News  : CM कमलनाथ का पोस्टर लेकर महाकाल मंदिर में घुसे कांग्रेसी, श्रद्धालु हुए परेशान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here