मध्यप्रदेश : “अग्निपथ योजना” के विरोध में कांग्रेस का 27 को देशव्यापी धरना

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के पीसीसी पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने अग्निपथ योजना को लेकर सवाल खड़े किए है, उन्होंने कहा कि अग्निपथ एक योजना है सेना मे फौजियों का सम्मान सर्वोपरि है, लेकिन यह स्कीम उस सम्मान को तोड़ती है, स्कीम तो वीआरएस भी है, मनरेगा भी है, मिड डे मील भी है। भोपाल पहुंचे अखिलेश प्रताप सिंह ने केंद्र सरकार  पर जमकर निशाना साधा।

यह भी पढ़ें…. कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, मिलेंगे DA वृद्धि सहित 4 बड़े लाभ! वेतन में 30000 से लेकर 1 लाख रुपए तक की वृद्धि, फिटमेंट फैक्टर पर अपडेट

अग्निपथ योजना से हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि जब से देश में नरेंद्र मोदी की सरकार आई है, तब हालात बिगड़ गए है। मोदी वन रैंक वन पेंशन की बात करते है पर अग्निपथ में नो रैंक नो पेंशन की बात कर रहे है। फौजियों के प्रति वह क्या भाव रखते है वह उन्होंने बताया है, पहले योजना लाते है, विरोध होता है तो संशोधन होता है फिर उसे वापस लेते है, जो लोग अग्निपथ का पक्ष ले रहे है उन्हें भी हकीकत पता है, मन की बात प्रधानमंत्री जी बहुत करते है जन की बात नहीं करते। नौजवानों के मन की बात भी सुनिए देश का नौजवान मायूस हो रहा है। देश के नौजवानी को ही रिटायर्ड कर दिया जाएगा तो कैसे देश आगे बढ़ेगा, अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि यार्कर की इस योजना के विरोध में कांग्रेस अपना विरोध जताएगी, देश में ब्लाक स्तर तक 27 जून को अग्निपथ योजना को वापस लेने के लिए गांधीवादी रूप से धरना देगें। कांग्रेस के इस प्रदर्शन में कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं समेत बड़े नेता शामिल होंगे।