कांग्रेस का सवाल प्रदेश में दोहरी कानून व्यवस्था कैसे चलेगी? DGP से की मुलाकात

कांग्रेस ने मांग की कि घटना की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए , जो भी दोषी है उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो लेकिन चिन्हित कर कार्यवाही नहीं होनी चाहिए।

MP CONGRESS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव (Arun Yadav) के नेतृत्व में कांग्रेस (Congress) ने प्रदेश के DGP से आज मुलाकात की। कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने करीब 40 मिनट तक प्रदेश के हालात पर DGP सुधीर सक्सेना से बात की। मुलाकात के बाद अरुण यादव ने मीडिया के सामने सवाल किया कि प्रदेश में दोहरी कानून व्यवस्था कैसे चलेगी ?

खरगोन में हुए दंगों और उसके बाद दिग्विजय सिंह के ट्वीट से गरमाई सियासत की आग अभी ठंडी नहीं हुई है।  दिग्विजय सिंह पर प्रदेश के अलग अलग शहरों में हुई FIR के बाद आज कांग्रेस (MP Congress) के एक प्रतिनिधि मंडल ने मध्य प्रदेश के पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सेना (DGP Sudhir Saxena) से मुलाकात की।

ये भी पढ़ें – कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, जल्द 8 फीसदी तक बढ़ेगी सैलरी, जानें नई अपडेट

प्रतिनिध मंडल में पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, विधायक आरिफ अकील, प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा सहित अन्य कई वरिष्ठ कोंग्रेसी शामिल थे।  कांग्रेस ने DGP के साथ करीब 40 मिनट बात की और इसमें अपनी बात रखी। पूर्व केंद्रीय मंत्री  अगुआई में पहुंचे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर चिंता जताई।  कांग्रेस ने बुलडोजर की कार्यवाही पर भी सवाल उठाये।

ये भी पढ़ें – Dry Eyes से परेशान हैं तो ऐसे करें अपनी आंखों की देखभाल 

मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए अरुण यादव ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति तक नहीं है।  उन्हों खरगोन की घटना को पुलिस इंटेलिजेंस फेलियर बताया।  उन्होंने सवाल किया कि प्रदेश में दोहरी कानून व्यवस्था कैसे चलेगी।  कांग्रेस ने मांग की कि घटना की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए, जो भी दोषी है उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई  हो लेकिन चिन्हित कर कार्यवाही नहीं होनी चाहिए।

ये भी पढ़ें – दिग्विजय सिंह के खिलाफ शिवराज के मंत्री की मुहिम, जनता से कर रहे ये अपील