Controversy-over-the-release-of-Vivekananda-theme-park

भोपाल।

मध्यप्रदेश की राजनीति में इन दिनों जमकर घमासान मचा हुआ है। खास करके लोकार्पण और उद्घाटन के कार्यक्रमों में। कही नई सरकार का विरोध किया जा रहा है तो कही विपक्ष द्वारा बीच मंच से उठकर चले जाने की खबरे सामने आ रहे है।इसी बीच नया मामला राजधानी भोपाल से सामने आया है जहां एक नवनिर्मित पार्क और विवेकानंद की मूर्ति का लोकार्पण कमलनाथ के मंत्री पीसी शर्मा को करना था, लेकिन इससे पहले ही बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री ने फीता काटकर इसका लोकार्पण कर दिया।विधायक का कहना है कि यह काम हमारे कार्यकाल में हुआ है, और मैने इसे पूरा करवाया है इसका लोकार्पण करने का हक भी क्षेत्र विधायक होने के नाते मेरा है, लेकिन यह दु:खद है कि कांग्रेस करना कुछ नहीं चाहती, श्रेय लेने की राजनीति करती है। घटना के बाद कांग्रेस में हडकंप मच गया है।

दरअसल, चुनाव जब सिर पर हो तो नेता योजानाओं का लोकार्पण और उद्घाटन करते ही हैं। चुनाव आचार संहिता लागू होने के डर से योजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास की बाढ़ आ जाती है। कुछ ऐसा ही नजारा राजधानी भोपाल में देखने को मिला।  आज 4 मार्च को भोपाल के अशोका गार्डन में बनाए गए नवनिर्मित पार्क का लोकार्पण एवं विवेकानंद की मूर्ति का लोकार्पण कमलनाथ सरकार में मंत्री पीसी शर्मा द्वारा किया जाना था, जिसे लेकर कांग्रेस ने निमंत्रण भी बांट दिए थे ,तैयारियां भी पूरी कर ली थी ।लेकिन इससे पहले ही पूर्व मंत्री और नरेला विधायक विश्वास सारंग ने समर्थकों के साथ जाकर रात में ही पार्क का लोकार्पण कर दिया और शिलालेख भी स्थापित करा दिया।इस पर सारंग ने कहा कि  इस पार्क का जितना भी कार्य है उसके लिए पैसा लाने का काम मेरे द्वारा किया गया था और इसमें खर्च की गई राशि को मैं स्वयं केंद्र सरकार से लेकर आया था। यह पूरा कार्य पिछली सरकार में ही हो गया था लेकिन कुछ लाइटें ना लगने की वजह से इस पार्क का लोकार्पण नहीं हो पाया था, लेकिन कांग्रेस अब ओछी राजनीति पर उतर आई है क्षेत्र से मैं विधायक हूं और मेरे ही अथक प्रयासों से यह पार्क बनकर तैयार हुआ है, लेकिन इसका लोकार्पण कांग्रेस नेताओं के द्वारा करके श्रेय लेने का कार्य किया जा रहा है जो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, यही वजह है कि हमने रात में ही इस पार्क का लोकार्पण कर दिया है और इसे आम जनता के लिए समर्पित कर दिया है।

मुझे जान का खतरा

इस घटनाक्रम के बाद  सियासत गरमा गई है। सत्ता पक्ष द्वारा लगातार हमले किए जा रहे है। वही अब भाजपा विधायक विश्वास सारंग ने मंत्री पीसी शर्मा से अपनी जान को खतरा बताया है। आज महाशिवरात्री के मौके पर भोपाल के बड़वाले महादेव मंदिर में भाजपा विधायक विश्वास सारंग ने पीसी शर्मा से टकरा गए और उन्होंने  कहा “आप तो मंत्री बन गए हो, मरवा मत देना”। आगे उन्होंने कहा कि मुझे जान का खतरा मंडराने लगा है।भाजपा विधायक बात सुनने के बाद जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा मुस्कुरा कर वहां से निकल गए।

बताया जा रहा है कि सीपीए  द्वारा 32 मीटर लंबे और 24 मीटर चौड़े क्षेत्र में करीब 1 करोड़ 37 लाख की लागत से बने इस पार्क काम विधानसभा चुनाव के पहले ही हो गया था, लेकिन जिस दिन लोकार्पण होना था उसी दिन आचार संहिता लग गई। सूत्र बताते हैं कि नरेला के कांग्रेस नेताओं ने जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा से संपर्क किया और उन्हें नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह के साथ इस थीम पार्क के लोकार्पण का प्लान बनाने को कहा। इसके बाद सीपीए ने सोमवार 4 मार्च को लोकार्पण की तैयारी कर ली।  इसमें स्वामी विवेकानंद की 10 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित की गई है।