कांग्रेस में समन्वय सिर्फ़ चुनाव में ही दिखता, सत्ता में आते ही मेरा-तेरा होने लगता : शिवराज

Coordination-in-Congress-seems-to-be-seen-only-in-elections

भोपाल।

कमलनाथ के मंत्रिमंडल विस्तार के बाद से ही बयानबाजी का सिलसिला तेजी से चल रहा है। १५ सालों बाद विपक्ष की भूमिका निभा रही भाजपा जमकर हमले बोल रही है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने कांग्रेस पर फिर निशाना साधा है। शिवराज ने कहा है कि  कांग्रेस में समन्वय सिर्फ़ चुनाव के वक़्त दिखता हैं। सत्ता में आते ही मेरा नेता – तेरा नेता होने लगता हैं। गुटबाजी हावी हो जाती हैं,  मुँह-जबानी सरकार चल रही हैं। मेरा प्रदेश सब देख रहा हैं।

 दरअसल, शिवराज ने ट्वीटर के माध्यम से एक के बाद एक ट्वीट कर कमलनाथ सरकार पर हमला बोला है। शिवराज ने एक ट्वीट में कांग्रेस के गुटबाजी की बात कही है तो दूसरे में मुंह जुबानी सरकार चलाने को लेकर तंस कसा है।शिवराज ने ट्वीट कर लिखा है कि कांग्रेस में समन्वय सिर्फ़ चुनाव के वक़्त दिखता हैं। सत्ता में आते ही मेरा नेता – तेरा नेता होने लगता हैं। गुटबाजी हावी हो जाती हैं, सब अपनी-अपनी सोच में स्वार्थी ही जातें है, विकास पटरी से उतर जाता है। मेरा प्रदेश सब देख रहा है। 

कांग्रेस में समन्वय सिर्फ़ चुनाव में ही दिखता, सत्ता में आते ही मेरा-तेरा होने लगता : शिवराज

वही दूसरे ट्वीट में उन्होंने  लिखा है कि 15 वर्ष बाद बिना बहुमत जोड़-तोड़ कर सरकार बना दी। हमनें शुभकामनाएँ भी दी। बिना पॉर्ट्फ़ोलीओ का मंत्रिमंडल बन गया और कैबिनेट मीटिंग भी हो रही हैं। सब मंत्री अपने-अपने नेताओं से मलाईदार विभाग के लिए पक्ष जुटाव में लगे हैं। मुँह-जबानी सरकार चल रही हैं। मेरा प्रदेश सब देख रहा हैं।हालांकि यह ट्वीट विभागों के बंटवारे के पहले का है। देर रात कमलनाथ सरकार ने मंत्रियों मे विभागों का बंटवारा कर दिया है।