MP में कोरोना की रफ्तार बढ़ी, 108 नए संक्रमित, 3100 के करीब पहुंचा आकंड़ा

भोपाल।
लॉक डाउन का तीसरा फेज चल रहा है लेकिन एमपी में कोरोना मरीजों की संख्या पर ब्रेक नही लग रहा है। आए दिन मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। प्रदेश में मंगलवार को जारी रिपोर्ट में 108 नए संक्रमित मिले और 16 की मौत हो गई। जिसमें इंदौर में 27 , भोपाल में 58 और, ग्वालियर में 2 ,रतलाम में 4 समेत अन्य जिलों में भी पॉजिटिव मिले है।वही पूरे प्रदेश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 3000 के पार पहुंच गया है और अबतक 179 की मौत हो चुकी है।ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है क्या एक बार फिर एमपी में लॉक डाउन की सीमा बढाई जाएगी।

लॉकडाउन फेज-3 का आज तीसरा दिन है, लेकिन हालात चिंताजनक होते जा रहे हैं। प्रदेश में मंगलवार देर रात तक संक्रमित मरीजों की संख्या 3000 के पार पहुंच गई। 179 की मौत हो चुकी है। इंदौर में 1681 ,भोपाल में 609 संक्रमित और उज्जैन में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 187 पहुंच गई है।मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को भोपाल में एक ही दिन में 58 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं। तीन मरीजों की मौत की पुष्टि भी हुई है। चिंता वाली बात यह है कि भोपाल में संक्रमितों की संख्या का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। मरीजों की संख्या 300 होने में एक महीने लगे थे अब 12 दिन में ही यह संख्या दो गुना से ज्यादा हो गई है। मंगलवार को कोरोना से जान गंवाने वालों में जहांगीराबाद निवासी 95 साल के चंपालाल का नाम भी शामिल हैं। अस्पताल पहुंचने के एक घंटे के अंदर ही उनकी मौत हो गई। वहीं 65 वर्षीय नईम खान ब्लड कैंसर से पीड़ित थे। अस्पताल पहुंचने के 12 घंटे के अंदर ही उनका निधन हो गया।

वही इंदौर में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। जिले में 27 नए और मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही इंदौर में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1681 पहुंच गई है।वहीं 2 और लोगों ने दम तोड़ा है। इंदौर में अब तक 81 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं राहत की बात है कि इलाज के बाद 491 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। सीएमएचओ प्रवीण जड़िया ने पुष्टि की है।इधर रतलाम जिले में चार नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। मंगलवार देर रात आई रिपोर्ट में जावरा रोड कंटेनमेंट क्षेत्र के तीन पुरुष, एक महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 7 हो गई है। इसके पहले 12 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। एक अन्य मरीज का उज्जैन में इलाज चल रहा है। नए मरीज कंटेंनमेंट क्षेत्र से ही हैं।वही ग्वालियर में भी दो कोरोना पॉजिटिव की पुष्टी हुई।

एमपी में लगातार बढ़ रहे आंकड़ों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। लॉक डाउन का तीसरा फेज चल रहा है लेकिन मरीजों की चैन ब्रेक नही हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अगले हफ्ते से रोज 3500 सैंपल लिए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग ने बीते 5 दिन से पैंडिंग सैंपल की जानकारी देने वाला कॉलम बुलेटिन में देना बंद कर दिया है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि पेंडिंग सैंपल की संख्या 15 हजार से ज्यादा हो सकती है।