कोरोना पॉजिटव की तलाश होगी आसान, टूटेगी संक्रमण की चैन

भोपाल| कोरोना के बढ़ते कहर को रोकने नए नए प्रयोग किये जा रहे हैं| स्मार्ट सिटी भोपाल द्वारा www.healthybhopal.com वेबसाइट तैयार की गई है। इसका उद्देश्य भोपालवासियों से मुख्यतः तीन प्रकार की जानकारियां जुटाना है। जिसमें पहला सर्दी, खांसी एवं बुखार से पीड़ित व्यक्ति की जानकारी, दूसरा 65 साल से अधिक उम्र के व्यक्तियों में कैंसर, भोपाल गैस त्रासदी पीड़ित और एचआईवी जैसी बीमारियों की जानकारी और तीसरा भोपालवासी की संपर्क सूची।

इन तीनों जानकारीयों को जुटाने के बाद उन्हें न सिर्फ कोरोना पॉजिटव को तलाशने में मदद मिलेगी। बल्कि वे कोरोना के संक्रमण की चैन तोड़ने में भी सफल हो सकेंगे। कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने इस वेबसाइट पर सभी भोपालवासियों से रजिस्टर करने की अपील की है। इस पर रजिस्ट्रेशन करने पर कोरोना के लक्षण की जानकारी मिलते ही तुरंत मेडिकल टीम आपसे संपर्क करेगी।

लक्षण है तो भेजे जानकारी, टीम करेगी संपर्क
यदि आपके भीतर सर्दी, खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षण है तो इस वेबसाइट पर दिए गए सबसे पहले फॉर्मेट को ऑनलाइन भरकर अपनी जानकारी भेज दें। जिसके बाद जिला प्रशासन की मेडिकल टीम आपसे फ़ोन पर सम्पर्क करेगी और जरूरत पड़ने पर आप तक रैपिड रेस्पॉन्स टीम भेजी जाएगी। जो कि सैंपलिंग और जांच की कार्रवाई करेगी। इस वेबसाइट पर हाई रिस्क सीनियर सिटीजन के पंजीकरण के लिए भी फॉर्मेट उपलब्ध कराया गया है।

हाई रिस्क में अपना पंजीयन कराएं
अगर किसी के परिवार में 65 वर्ष से अधिक यानी सीनियर सिटीजन है और कैंसर, अस्थमा, टीबी, भोपाल गैस त्रासदी पीड़ित, ऑर्गन ट्रांसप्लांट, लिवर, एच आईवी पॉजिटव हैं और किडनी की बीमारी जैसी समस्या से पीड़ित है, तो वो कोविड-19 के हाई रिस्क में आते हैं। ऐसे व्यक्ति वेबसाइट पर दिए गए दूसरे फार्मेट को भरें और हाई रिस्क में अपना पंजीयन कराएं। ताकि सभी को सुरक्षित रखा जा सके।