भोपाल में 21 पॉजिटिव मिले, इंदौर में चार और मरीजों की मौत

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है, भोपाल, इंदौर जैसे बड़े शहरों के साथ ही इसकी चपेट में अब तक कई जिले आ चुके हैं| इंदौर में स्तिति जहां बेहद गंभीर हो चुकी है तो वहीं राजधानी भोपाल में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 100 के पार पहुँच चुका है| भोपाल में 21 कोरोना पॉजीटिव मरीज सामने आए हैं, जिसे देखते हुए भोपाल अब हाई सेंसेटिव जोन में आ गया है।

राजधानी में 21 कोरोना पॉजीटिव केस मिले हैं, जिसमे तीन डॉक्टर और 18 अधिकारी कर्मचारी स्वास्थ्य विभाग व उनके परिवार के लोग हैं| भोपाल में कोरोना के संक्रमित मरीजों की संख्या 120 पहुंच गई है। वहीं इंदौर में शुक्रवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से फिर चार मौत हो गई, एक डॉक्टरों की और मौत हो गई है । शहर में अब 235 से ज्यादा मरीज कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। अब तक कुल 27 मरीजों की मौत हो चुकी है।

इंदौर में एक और डॉक्टर की मौत
आज इंदौर में कोरोना से एक और डॉक्टर की मौत हो गई। दो दिन में यह दूसरे डॉक्टर की मौत हुई हैं।शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बताया जा रहा है कि डॉक्टर पूर्व में धार में जिला आयुष अधिकारी बतौर सेवाएं दे चुके है।शहर में अब 235 मरीज कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। इनमें से अब तक कुल 27 मरीजों की मौत हो चुकी है। इंदौर मेडिकल कॉलेज के मुताबिक एक मौत 7 अप्रैल और दो मौत 8 अप्रैल को हुई है। इससे पहले गुरुवार को एक डाक्टर शत्रुघ्न पंजवानी की मौत हो गई थी। एक के बाद एक डॉक्टरों की मौत से देशभर में हड़कंप मच गया है।

अब कस्बों तक पहुंचा कोरोना
कोरोना का कहर अब बड़े शहरों से होते कस्बों तक पहुँच गया है है| विदिशा शहर में गुरुवार देर रात तक 5, गंजबासौदा में 4 और लटेरी-ग्यारसपुर में एक-एक कोरोना पॉजिटिव मिला। इससे पहले 8 अप्रैल को गंजबासौदा में 1 और सिरोंज में 6 अप्रैल को 1 कोरोना पॉजिटिव मिला था। विदिशा जिले में अब तक 13 कोरोना पॉजिटिव मिले।