कोरोना खौफ: स्कूल-सिनेमा अगले आदेश तक बंद, प्रशिक्षण निरस्त, बोर्ड परिक्षाएं जारी

भोपाल।
भारत में कोरोना वायरस संक्रमण से प्रभावित एक मरीज की मौत के बाद देश-प्रदेश में स्कूलों की छुट्टी घोषित की गई है। मध्य प्रदेश सरकार ने भी निजी और सरकारी स्कूलों को अनिश्चित काल के लिए बंद करने का आदेश दिया है। आदेशनुसार, कक्षा 1 से 12वीं क्लास तक के अवकाश घोषित किए हैं। बोर्ड परीक्षा के अलावा जिन स्कूलों में परीक्षाएं हो रही हैं वहां परीक्षाएं तो होंगी लेकिन किसी भी तरह की परीक्षाएं संचालित नहीं होंगी।

जारी आदेश में कहा गया है कि राज्य शासन द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिये प्रदेश के सभी स्कूलों में आंतरिक वार्षिक परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। आयुक्त लोक शिक्षण एवं संचालक राज्य शिक्षा केन्द्र जयश्री कियावत ने सभी ज़िलों को इस संबंध में निर्देश दिये हैं।

सभी स्कूलों को निर्देशित किया गया है कि आंतरिक स्तर पर आयोजित की जाने वाली कक्षा पहली से चौथी एवं कक्षा छठवीं तथा सातवीं सहित अन्य सभी आंतरिक वार्षिक परीक्षाएँ आगामी आदेश तक स्थगित की जाएं। यह निर्देश प्रदेश की समस्त शासकीय एवं अशासकीय शालाओं में लागू होगा।

उल्लेखनीय है कि स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार शासकीय विद्यालयों में कक्षा 5वीं तथा 8वीं की बोर्ड पेटर्न पर होने वाली वार्षिक परीक्षाएँ तथा कक्षा 10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षाएँ पूर्व निर्धारित समय सारिणी अनुसार ही संचालित होंगी। अशासकीय विद्यालयों में बोर्ड परीक्षाओं के अतिरिक्त समस्त आंतरिक परीक्षाएँ आगामी आदेश तक स्थगित रहेंगी।

सिनेमा हॉल भी बंद
प्रदेश की जनता को सुरक्षित रखने के लिये प्रदेश के सभी सिनेमा घरों को बंद करने के निर्देश दिये हैं। वाणिज्यिक कर विभाग ने इस संबंध में मध्यप्रदेश सिनेमा (विनियम) अधिनियम 1952 की धारा 5 (4) में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए आदेश जारी किये हैं।जारी आदेशानुसार प्रदेश के सभी सिनेमा अनुज्ञप्तिधारी 14 मार्च से 31 मार्च, 2020 तक अथवा अन्य आदेश पर्यन्त, जो भी पहले हो, तक सिनेमा प्रदर्शन नहीं करेंगे एवं सिनेमा हॉल को बंद रखेंगे।

प्रशिक्षण किया निरस्त

कोरोना वायरस के चलते कई तरह के प्रशिक्षणों को रोक दिया है। इसी के तहत भोपाल में होने वाले नए सहायक प्राध्यापकों की ट्रेनिंग को भी निरस्त कर दिया है। इस प्रशिक्षण में जिले से भी प्राध्यापकों को शामिल होना था। 16 से 21 मार्च तक यह प्रशिक्षण होना था।

कर्मचारियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति स्थगित
कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के संदर्भ में कार्यालयों में कर्मचारियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति आगामी आदेश तक स्थगित रखने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने प्रदेश में आवश्यक दवाएं, उपकरण तथा सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिये हैं।स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार 13 मार्च को चीन में 26 प्रकरण, जबकि अन्य देशों में 6703 प्रकरण नोवल कोरोना वायरस से संबंधित दर्ज किये गये हैं। भारत में अभी तक 81 प्रकरण इस बीमारी के दर्ज हुए हैं। इनमें से एक की मृत्यु हुई है।

बता दे कि प्रदेश में आज तक वायरस से प्रभावित देशों से आने वाले 751 यात्रियों की पहचान की जा चुकी है। इनमें से 342 यात्री अपने घरों में आइसोलेशन में रखे गये हैं और 358 यात्रियों का सर्विलेंस पूरा हो चुका है। प्रदेश में अभी तक कोरोना वायरस का कोई भी पॉजिटिव प्रकरण नहीं है।