भोपाल।

भोपाल।
मध्यप्रदेश में एक तरफ कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है, प्रशासन इस पर काबू की पूरी कोशिश कर रहा है वही कोरोना पॉजिटिव मरीज मुश्किलें बढ़ाने से पीछे नही हट रहे है। कभी मरीज इलाज में सहयोग नही करता तो कभी अस्पताल से भाग जाता है। अब राजधानी भोपाल (Bhopal) में कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) जमातियों ने निगम द्वारा दिया गया खाना खाने से इंकार कर दिया है। उन्होंने प्रशासन से बिरयानी की मांग की।

दरअसलस, भोपाल में वर्तमान में 32 जमात हैं और इनमें 320 जमाती हैं। इनमें 7 विदेशी जमाती भी हैं। जिसमें से 70 जमातियों को रोटी-सब्जी पसंद नहीं है। सूत्रों के मुताबिक, 8 जमाती मरीज खाने में चिकन बिरयानी, फल और घर का खाना मांग रहे हैं।शनिवार को नगर निगम द्वारा दिए जा रहे फूड पैकेट्स को उन्होंने खाने से मना कर दिया और अपने लिए बिरयानी और फल मांगे। यही नहीं, यह जमाती निगम के फूड पैकेट्स को देखकर अस्पताल के स्टाफ से कह रहे हैं कि यह क्या घास-फूस खिला रहे हो?

जिला प्रशासन के सूत्रों के मुताबिक, जमातियों को जब भी कोई नर्स या डॉक्टर दिखाई देते हैं तो अपनी जेब में रखी पर्ची निकालते हैं और रिश्तेदार की तबीयत खराब होने की बात कहते हुए दवाइयां मांगते हैं। यहीं हाल हज हाउस में रखे गए जमातियों का भी है। वे भी इसी तरह की मांग कर ड्यूटी में लगे अफसरों को परेशान कर रहे हैं।

बता दे कि एमपी में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 193 हो गई गई है। वही 11 की अबतक मौत हो चुकी है। आज रविवार सुबह ही भोपाल से 8 कोरोना पॉजिटिव मिले है जिसमें से 6 जमाती भी शामिल है।