अरब सागर में उठे ‘महा’ तूफान का असर, जारी रहेगा MP में बारिश का दौर

भोपाल।

कहने को एमपी से मानसून की विदाई हो चुकी है, लेकिन फिर भी रुक रुककर बारिश का सिलसिला जारी है।  गुरुवार को भी हरदा, खंडवा, देवास, धार आदि में बौछारें पड़ीं।।महा तूफान के काऱण मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहे है और अरब सागर से लगातार नमी मिल रही है । अगर चक्रवाती तूफान ‘महा”के असर से नमी बढ़ने का सिलसिला तेज हुआ अगले दो दिन दिनों में भोपाल समेत कई जिलों में बारिश हो सकती है।मौसम विभाग की माने तो तूफान का असर प्रदेश में नवंबर के प्रथम सप्ताह तक रहने के आसार हैं। 

वही अरब सागर में बना चक्रवाती तूफान ‘महा”वर्तमान में वेरावल से 600 किमी. दूर है। इसके आज-कल में गुजरात के तट से टकराने की संभावना है।जिसका असर एमपी समेत कई राज्यों में भी देखने को मिल सकता है।अगर दिवाली के बाद नवंबर  के पहले दिन की बात करे तो रात में तापमान में 0.8 डिग्री और दिन का तापमान 30.9 डिग्री दर्ज रहा। वही गुरुवार को यह 31.3 डिग्री दर्ज किया गया था रात का तापमान 20 डिग्री दर्ज किया गया।मौसम विभाग की माने तो वातावरण में नमी बरकरार रहने के कारण बरसात की गतिविधियां जारी हैं। इस तरह की स्थिति अभी बनी रहेगी।  शनिवार को आंशिक बादल छाने की उम्मीद है। शाम को और रात के समय में गरज- चमक की स्थिति बन सकती है। वही 2 दिन बाद प्रदेश के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र में बादल छाएंगे और तेज बौछारें पड़ने की संभावना है। 

इन राज्यों में भी बारिश का अनुमान

वही अरब सागर में महा चक्रवात सक्रिय होने के चलते आगामी 6 व 7 नवंबर को गुजरात के सौराष्‍ट्र व दक्षिण गुजरात में भारी बरसात की आशंका है। मौसम विभाग की माने तो चक्रवात के चलते आगामी दिनों में गुजरात के मौसम में अचानक बदलावा होगा। दक्षिण गुजरात व सौराष्‍ट्र में इसका खास असर होगा, तेज बारिश होगी तथा 60 से 70 किमी प्रति घंटे की रफ़तार से हवाएं चलने की संभावना है।वही  अगले एक हफ्ते में महाराष्ट्र के विदर्भ, मराठवाड़ा में भी बारिश हो सकती है।इसके चलते मछुवारों को सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। इसके अलावा छत्तीसगढ़, ओडिशा, असम, मेघालय, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में भी बारिश की संभावना है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here