भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना के संक्रमण के रमजान का पाक महीना आ चुका है। इस दौरान दारुल इफ्ता फरंगी महल ने फतवा जारी किया है कि रोज़े के दौरान कोरोना वैक्सीन लगवाने से रोज़ा (Roza) नहीं टूटेगा। इसलिए रमजान (Ramadan 2021) महीने में रोज़े रखने के दौरान कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) लगवाई जा सकती है। इस बारे में भोपाल के एक शख्स ने उनसे सवाल किया था, जिसके जवाब में ये फतवा जारी किया गया है।

ये भी देखिये – MP Board: स्कूल शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला- शासकीय विद्यालयों में 13 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश

मंगलवार को दारुल इफ्ता फरंगी महल ने फतवा जारी करते हुए कहा कि कोरोना का टीका इंसान के शरीर की रगों में जाता है, पेट में नहीं। इसलिये रोज़ा नहीं टूटेगा और रोज़े के दौरान टीका लगवाया जा सकता है। इसी के साथ उन्होने अपील की कि लोग जल्द से जल्द कोविड 19 से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाएं। बता दें कि भोपाल के रहने वाले अब्दुर्रशीद किदवाई ने दारुल इफ्ता से सवाल किया था कि क्या रोज़े के दौरान वैक्सीन लगवाई जा सकती है। उन्होने पूछा था कि वे वैक्सीन की एक खुराक पहले ले चुके हैं और दूसरा डोज़ लेने का समय रमजान के महीने के बीच में आएगा। ऐसे में रोजे के दौरान क्या वैक्सीन ली जा सकती है। इसके जवाब में दारुल इफ्ता फरंगी महल ने ये फतवा जारी किया है जिसपर मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली, मौलाना नसरूल्लाह, मौलाना मोहम्मद मुश्ताक और मौलाना नईमुर्रहमान ने दस्तखत किये हैं।