जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में फैसला, घाटों में नहीं होगा मूर्तियों का विसर्जन

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) की बैठक विधानसभा के प्रोटोम स्पीकर रामेश्वर शर्मा (Vidhan Sabha Protem Speaker) की अध्यक्षता में उनके कक्ष में संपन्न हुई। बैठक में निर्णय हुआ कि आने वाले समय में सभी धर्मों के त्यौहार (Festival) सार्वजनिक स्थलों पर कोई भी आयोजन नहीं होगा। सभी धर्मावलंबी द्वारा अपने घरों में ही त्यौहार मनाए जाए। सार्वजनिक स्थलों, चौराहों, सड़क पर किसी प्रकार का किसी को कोई मेला, जुलूस, जलसा का आयोजन करने नहीं दिया जाए। बैठक में विधायक कृष्णा गौर, कलेक्टर अविनाश लवानिया, डीआईजी इरशाद वली समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

कोरोना संक्रमण (corona infection) को देखते हुए लगातार सावधानियां बरती जा रही है। गणेश विसर्जन भी घाटों पर नहीं होगा। इसके लिए सभी धर्मावलंबी अपने घरों में ही गणेश प्रतिमा का विसर्जन करें। नगर निगम द्वारा जगह जगह पर स्टॉल लगाकर मूर्तियों को विसर्जन के लिए एकत्रित किया जायेगा।

कलेक्टर लवानिया ने बैठक में कहा कि मेरे गणेश-मेरे घर अभियान को जन जन तक पहुंचाने के लिए व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए। इस पर सभी ने सर्वसम्मति से पहल करने की सहमति दी। इसी के साथ डोल ग्यारस, अनंत चौदस सहित अन्य त्यौहार पर भी किसी प्रकार के आयोजन नहीं किए जायेंगे। किसी प्रकार का कोई जुलूस आयोजित नहीं किया जाएगा। सभी धर्मों के धर्मगुरुओं और समाज सेवकों से भी चर्चा की जा रही है। उनके द्वारा भी लोगों से अपील की जाएगी कि त्यौहार घर पर ही मनाएं, सुरक्षित रहें, परिवार को सुरक्षित रखें और कोरोना संक्रमण को हराने में सहयोग करें।