BJP और असंतुष्ट विधायकों के लिए केंद्रीय सुरक्षा की मांग

भोपाल।कमलनाथ (kamalnath) सरकार (government) द्वारा बीजेपी (bjp) के कुछ विधायकों के सुरक्षाकर्मियों में किए गए परिवर्तन के बाद राजनीति गरमा गई है जहां एक और पूर्व मंत्री (former minister) और बीजेपी (bjp) विधायक mla विश्वास सारंग (vishwas sarang) व संजय पाठक( sanjay pathak) खुद को जान का खतरा बता चुके हैं ।

वहीं अब एक और बीजेपी विधायक और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष (state vice president) रामेश्वर शर्मा (rameshwar sharma) ने केंद्रीय गृह मंत्री (central home minister) अमित शाह (amit shah) को पत्र (letter) लिखकर बीजेपी के विधायकों के साथ-साथ सरकार से नाराज 25 से 30 कांग्रेस बसपा और सपा के विधायकों तथा निर्दलीय विधायकों के लिए सरकार से जान का खतरा बताया है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष और विधायक रामेश्वर ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस के कम से कम 30 विधायक कमलनाथ सरकार से खफा हैं। हम केंद्रीय गृह मंत्री से भी इन विधायकों की सुरक्षा के लिए मांग करेंगे। रामेश्वर शर्मा ने कहा कि सरकार के खिलाफ यदा-कदा बोलने वाले इन विधायकों के लिए इस वक्त केंद्र की सुरक्षा जरूरी है। इसके लिए उन्होंने अमित शाह को पत्र लिखा है।

पत्र में शर्मा ने लिखा है कि कांग्रेस के कुछ नेताओं के हाथ खून से रंगे हैं और वे सत्ता में बने रहने के लिए कुछ भी करा सकते हैं। अपने ही विधायकों के असंतोष से गुजर रही पार्टी कुछ भी कर सकती है जैसे रातों-रात पुलिस महानिदेशक को (director general of police) हटा दिया गया वैसे ही यह सरकार कुछ भी कराने के मूड में है। शर्मा ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर प्रदेश के विधायकों को केंद्रीय सुरक्षा मुहैया कराने का निवेदन किया है।